बीरो आयो बियाव कर भदाओ बाई सुगणा ए

बीरो आयो बियाव कर,
भदाओ बाई सुगणा ए,
लाडो ए कोडां ए करलो आरती।।



हिवड़ो भरीजै हाथ,

धूजै माता म्हारी ए,
लाछा ने केवे नी,
करले आरती।।



आरती उतारो भीरे री,

बाई सुगणा ए,
बीतोड़ी बाताँ ने बाई,
ए बीसरो।।



मैला कपड़ा पहर कीकर,

आई ए बाई सुगणा ए,
कोड तो भूली ए कांई ए सासरे,
नवा कपड़ा पहरिया जद,
भाणु याद आयो रे,
आँख्या रा आँसूड़ा,
थाळी माय पड़े।।



सुगना री भेळा क्यों,

रोवे बाई सुगणा ए,
रामदे सा भीरा,
जग में जीवता।।



सासरिये सू चाली भीरा,

सासू म्हाने भरजी ओ,
भंवरू ने लेजाओ मती सासरे।।



रुणेचे में जहर खाय,

मरसू भीरा म्हारा रे,
पाछी रे पूंगल न,
जाऊं रे जीवती।।



गेली गेली बाई थू तो,

गेला बोल बोले ए,
भाणु तो सुतो रे,
सुख री नींद में।।



आओ आओ भाणुड़ा,

थाने मामोसा बुलावे रे,
महला रे उतरते रा,
बाज्या घूघरा।।



सुगणा बाई ने परचो दीनों,

हरजी जस गावे ओ,
चरणों रो चाकर,
पन्नो आपरो।।



बीरो आयो बियाव कर,

भदाओ बाई सुगणा ए,
लाडो ए कोडां ए करलो आरती।।

गायक – बाबूलाल जी संत देऊ।
प्रेषक – रामेश्वर लाल पँवार।
आकाशवाणी सिंगर।
9785126052


इस भजन को शेयर करे:

अन्य भजन भी देखें

सांवरियो गिरधारी रे आप बिना मोरी कोन खबर ले

सांवरियो गिरधारी रे आप बिना मोरी कोन खबर ले

सांवरियो गिरधारी रे, आप बिना मोरी कोन खबर ले।। मनजारी सुत दिया अग्न में, करुणा करे कुमारी रे, चार बरतन प्रभु कोरा राखिया, खेलत सुत मन जारी रे, तुम बिना…

बाबा रामदेवजी ओ थाने खम्मा घणी भजन लिरिक्स

बाबा रामदेवजी ओ थाने खम्मा घणी भजन लिरिक्स

बाबा रामदेवजी ओ थाने खम्मा घणी, दोहा – महिमा गावा रामदेव री, सुनजो ध्यान लगाय, जनम जनम रा पाप मिटे, और दुःख दारी दूर जाए। बाबा रामदेवजी ओ थाने खम्मा…

थे म्हारा शिव जी भोला घणा थारो मन्दिर चुनायदु पहाडों में

थे म्हारा शिव जी भोला घणा थारो मन्दिर चुनायदु पहाडों में

थे म्हारा शिव जी भोला घणा, शिव भोला घणा थारो, मन्दिर चुनायदु पहाडों में, मन्दिर चुनायदु पहाडों मे, दुनिया आवे दर्शन ने, थें म्हारा शिव जी भोला घणा, शिव भोला…

Bhajan Lover / Singer / Writer / Web Designer & Blogger.

Leave a Comment

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे