प्रथम पेज आरती संग्रह

आरती संग्रह

Aarti Sangrah Lyrics

नित्य पठनीय गीताजी के पाँच श्लोक

नित्य पठनीय गीताजी के पाँच श्लोक

नित्य पठनीय गीताजी के पाँच श्लोक, १. अजोऽपि सन्नव्ययात्मा भूतानामीश्वरोऽपि सन्, प्रकृतिं स्वामधिष्ठाय सम्भवाम्यात्ममायया।। २. यदा यदा हि धर्मस्य ग्लानिर्भवति भारत, अभ्युत्थानमधर्मस्य तदात्मानं सृजाम्यहम्।। ३. परित्राणाय साधूनां विनाशाय च दुष्कृताम्, धर्मसंस्थापनार्थाय सम्भवामि युगे युगे।। ४. जन्म कर्म च...
श्री यमुनाजी के 41 पद हिंदी में लिखित

श्री यमुनाजी के 41 पद हिंदी में लिखित

श्री यमुनाजी के 41 पद, पद संख्या 1 पिय संग रंग भरि करि कलोले, सबन को सुख देन, पिय संग करत सेन, चित्त में तब परत चेन जबही बोले। अतिहि विख्यात, सब बात इनके हाथ, नाम लेत ही कृपा करी अतोले, दरस करी...
माता अम्बे मेरी माँ जगदम्बे मेरी आरती लिरिक्स

माता अम्बे मेरी माँ जगदम्बे मेरी आरती लिरिक्स

माता अम्बे मेरी, माँ जगदम्बे मेरी, आरती उतारे आज, हम सब तेरी।। देखे - ॐ जय अम्बे गौरी। पान सुपारी ध्वजा नारियल, तेरी भेंट चढ़ाये, मैया तेरी भेंट चढ़ाये, लाल चोला तेरे अंग विराजे, केसर तिलक लगाए, माता अम्बें मेरी, माँ जगदम्बे मेरी, आरती उतारे आज, हम...
श्री गणेश चालीसा लिरिक्स

श्री गणेश चालीसा लिरिक्स

श्री गणेश चालीसा लिरिक्स, दोहा - जय गणपति सदगुणसदन, कविवर बदन कृपाल, विघ्न हरण मंगल करण, जय जय गिरिजा लाल।। जय जय जय गणपति गणराजू, मंगल भरण करण शुभ काजू।। जय गजबदन सदन सुखदाता, विश्व विनायक बुद्धि विधाता।। वक्र तुण्ड शुची शुण्ड सुहावन, तिलक त्रिपुण्ड...
श्री लड्डू गोपाल चालीसा लिरिक्स

श्री लड्डू गोपाल चालीसा लिरिक्स

श्री लड्डू गोपाल चालीसा, दोहा - बाल रूप में शोभित हैं, श्री लड्डू गोपाल, जो जन नित सेवा करें, मिटे कुअंक तिन भाल। नमामि श्री लड्डू गोपाल नमामि, मोहक बाल रूप के स्वामी।। तुम हो घर के प्रियतम प्यारे, कर दिए तुमने...
हो रही तेरी आरती मिनावाड़ा की दशा माँ लिरिक्स

हो रही तेरी आरती मिनावाड़ा की दशा माँ लिरिक्स

हो रही तेरी आरती, मिनावाड़ा की दशा माँ।। है जग जननी माँ कल्याणी, करे आरती भक्त तुम्हारी, द्वार तुम्हारे उतारे आरती, मिलकर के नर और नारी, नर और नारी, हो रहीं तेरी आरती, मिनावाड़ा की दशा माँ।। ढोल नगाड़ा शंख बजे है, गूंज रही...
श्री केशव चालीसा हिंदी लिरिक्स

श्री केशव चालीसा हिंदी लिरिक्स

श्री केशव चालीसा, दोहा - पात पात में केशव जी, हर पल केशव दास, शिला रूप जगन्नाथ जी, दो श्री चरणों में वास।। जय केशव जय केशव दासा, होत प्रात: करे जग अरदासा।। द्वापर में हरि नर तन धारा, कान्हा बन के...
आरती बालकृष्ण की कीजे हिंदी लिरिक्स

आरती बालकृष्ण की कीजे हिंदी लिरिक्स

आरती बालकृष्ण की कीजे, अपनो जन्म सफल कर लीजे, आरती बाल कृष्ण की कीजे।। ये भी देखें - श्यामा तेरी आरती। श्री यशोदा को परम दुलारो, बाबा की अखियन को तारो, गोपिन के प्राणन को प्यारो, इन पे प्राण न्योछावर कीजे, आरती...
जानकी स्तुति हिंदी लिरिक्स

जानकी स्तुति हिंदी लिरिक्स

जानकी स्तुति, जानकी स्तुति लिरिक्स, भई प्रगट कुमारी भूमि विदारी, जनहितकारि भयहारी, अतुलित छबि भारी मुनि मनहारी, जनकदुलारी सुकुमारी।। सुन्दर सिंघासन तेहीं पर आसन, कोटि हुताशन धुतिकारी, सिर छत्र बिराजै सखि संग भ्राजे, निज निज कारज करधारी।। सुर सिद्ध सुजाना हनै निशाना, चढ़े बिमान समुदाई, बरषहिं...
बाबा जी थारी मोरछड़ी लहराए खाटूश्यामजी आरती

बाबा जी थारी मोरछड़ी लहराए खाटूश्यामजी आरती लिरिक्स

आरती हो रही है, बाबा जी थारी, मोरछड़ी लहराए।। कौन उतारे बाबा तोरी रे आरती, कुन थारे चँवर ढुलाई, बाबा कुन चँवर ढुलाई, आरती हो रही है, बाबा जी तोरी, मोरछड़ी लहराए।। सेवक उतारे बाबा तोरी रे आरती, प्रेमी चवँर ढुलाय, बाबा के प्रेमी चवँर...

नवरात्री भजन लिरिक्स - Navratri Bhajan Lyrics

फ़िल्मी तर्ज भजन

700+ Popular Bhajan Lyrics

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे