प्रथम पेज गणेश भजन

गणेश भजन

Shri Ganesh Bhajan

ओ गणराज मेरे आया हूँ द्वार तेरे भजन लिरिक्स

ओ गणराज मेरे, आया हूँ द्वार तेरे, ओ गणराज मेरें, आया हूँ द्वार तेरे।। तर्ज - नीले गगन के तले। जिसने तेरे नाम को सुमरा, जिसने तेरे नाम को सुमरा, उसके...

बेगा सा पधारो जी सभा में म्हारे आओ गणराज भजन लिरिक्स

बेगा सा पधारो जी, सभा में म्हारे आओ गणराज, थे बेगा पधारो जी।। तर्ज - हुस्न पहाड़ों का। भक्त खड़े था की बाट निहारे, भक्त खड़े था की बाट...

आओ गणराजा बुलाया भक्तों ने आजा भजन लिरिक्स

आओ गणराजा बुलाया, भक्तों ने आजा, प्रथम निमंत्रण आपको देवा, देवो के सरताजा, आओं गणराजा बुलाया, भक्तो ने आजा।। आप भी आना रिद्धि सिद्धि लाना, संग में गौरी माता, ब्रम्हा विष्णु देवो...

मेरे घर आयो शुभ दिन आज मंगल करो श्री गजानना लिरिक्स

मेरे घर आयो शुभ दिन आज, मंगल करो श्री गजानना।। आवो देवा करूँ मैं सेवा, मोदक और धरूँ नित मेवा, रिद्धि सिद्धि संग-2, आवो महाराज, मंगल करो श्री गजानना।। शुभ अवसर...

अपना है सेठ गणपति लाला भजन लिरिक्स

अपना है सेठ गणपति लाला, शिव शंकर सूत देव गणपति, देवो में बलकारी, सबसे पहले तेरा सुमिरण, करती दुनिया सारी, देवो में देव है निराला, अपना है सेठ गणपति लाला।। तर्ज...

गौरी के लाल तुमको सादर नमन हमारा भजन लिरिक्स

गौरी के लाल तुमको, सादर नमन हमारा, गौरी के लाल तुमकों, सादर नमन हमारा, हर काम से मैं पहले, सुमिरण करूँ तुम्हारा, गौरी के लाल तुमकों, सादर नमन हमारा।। तर्ज - भोला...

श्री गणपति महाराज मंगल बरसाओ भजन लिरिक्स

श्री गणपति महाराज, मंगल बरसाओ, शिव जी के प्यारे, मैया गौरा के दुलारे, देवों के सरताज, मंगल बरसाओ, श्रीं गणपति महाराज, मंगल बरसाओ।। प्रथम गजानंद तुमको मनाऊँ, विनती करूँ कर जोड़ के बुलाऊँ, सफल...

करूँ वंदन हे शिव नंदन तेरे चरणों की धूल है चन्दन...

करूँ वंदन हे शिव नंदन, तेरे चरणों की धूल है चन्दन, तेरी जय हो गजानन जी, जय जय हो गजानन जी।। विघ्न अमंगल तेरी कृपा से, मिटते है गजराज...

गणपति तेरे चरणों की पग धूल जो मिल जाए लिरिक्स

गणपति तेरे चरणों की, बप्पा तेरे चरणों की, पग धूल जो मिल जाए, सच कहता हूँ गणपति, तकदीर सम्भल जाए, गणपति तेरें चरणों की।। तर्ज - राधे तेरे चरणों की। सुनते...

हे गौरी नंदन तुझको वंदन तेरा रूप निराला भजन लिरिक्स

हे गौरी नंदन तुझको वंदन, तेरा रूप निराला, गोरी नंदन तुझको वंदन, तेरा रूप निराला।। सिध्दि सदन गज वदन विनायक, कृपा सिंधु सुंदर सब लायक, ब्रम्हा विष्णु जपते निशदिन, ब्रम्हा विष्णु...

कृष्ण भजन लिरिक्स

फ़िल्मी तर्ज भजन

error: कृपया प्ले स्टोर से \"भजन डायरी\" एप्प डाउनलोड करे।