प्रथम पेज धीरज कांत भजन

धीरज कांत भजन

Dhiraj Kant Bhajan Lyrics

सब कुछ नहीं है पैसा भजन लिरिक्स

सब कुछ नहीं है पैसा भजन लिरिक्स

है वो भी जरूरी पर, सब कुछ नहीं है पैसा, मकसद ऐ जिंदगी का, क्यों रख लिया है पैसा, है वो भी जरूरी पर, सब कुछ नहीं हैं पैसा।। देखे - इस ज़माने में कलेजा तक। पैसे से सिकंदर ने, क्या क्या...
कहाँ जाके छुपा चितचोर राधा तेरी माला जपे लिरिक्स

कहाँ जाके छुपा चितचोर राधा तेरी माला जपे लिरिक्स

कहाँ जाके छुपा चितचोर, राधा तेरी माला जपे, कहाँ ढूँढू गया किस ओर, राधा तेरी माला जपे।bd। धानी चुनरिया में यमुना किनारे, कबसे खड़ी मैं तेरा रस्ता निहारे, तेरे संग बांधे जीवन की डोर, राधा तेरी माला जपे, कहां जाके छुपा चितचोर, राधा...
सदा साफ़ रखना तू बन्दे मन का शिवाला लिरिक्स

सदा साफ़ रखना तू बन्दे मन का शिवाला लिरिक्स

सदा साफ़ रखना तू बन्दे, मन का शिवाला, ना जाने कब कर दे दया, श्रष्टि रचने वाला, सदा साफ़ रखना तू बन्दें, मन का शिवाला।bd। देखे - अजब है भोलेनाथ ये। या धनवान हो या निर्धन हो, सबपे कृपा बराबर तेरी, या धनवान...
लाख करो कोशिश जाता हुआ वक्त ना रुकता है लिरिक्स

लाख करो कोशिश जाता हुआ वक्त ना रुकता है लिरिक्स

लाख करो कोशिश जाता हुआ, वक्त ना रुकता है, अहंकार जिस दिल में भरा हो, सर नहीं झुकता है, लाख करो कोशीश जाता हुआ, वक्त ना रुकता है।bd। देखे - सबकुछ देना सांवरे। ज्ञान उतर जाए जिस दिल में, है पहचान वही, ज्ञान...
जन्मे है राम रघुरैया अवधपुर में बाजे बधैया भजन लिरिक्स

जन्मे है राम रघुरैया अवधपुर में बाजे बधैया भजन लिरिक्स

जन्मे है राम रघुरैया, अवधपुर में बाजे बधैया, बाजे बधैया बाजे बधैया, जन्में है राम रघुरैया, अवधपुर में बाजे बधैया।। ये भी देखे - राम दशरथ के घर जन्मे। राजा दशरथ गैया लुटावे, राजा दशरथ गैया लुटावे, कंगना लुटावे तीनो मैया, अवधपुर में...
हरिनाम सुमर सुखकारण रे भजन लिरिक्स

हरिनाम सुमर सुखकारण रे भजन लिरिक्स

हरिनाम सुमर सुखकारण रे, सुखकारण रे, भवतारण रे, हरिनाम सुमर सुखकारण रें।। सोवत जागत फिरत निरंतर, सोवत जागत फिरत निरंतर, मुख से करो उच्चारण रे, हरिनाम सुमर सुखकारण रें।। जनम जनम के संचित सारे, जनम जनम के संचित सारे, पल में पाप निवारण रे, हरिनाम...
किसी भाव से तुम शरण में तो आओ भजन लिरिक्स

किसी भाव से तुम शरण में तो आओ भजन लिरिक्स

किसी भाव से तुम, शरण में तो आओ, मन से कुसुम से, हरि नाम गाओ, किसीं भाव से तुम।। क्या तुम कहोगे, उन्हें सब पता है, जीवन में तुमने, किया जो खता है, समर्पण करो और, उनको बुलाओ, मन से कुसुम से, हरि नाम गाओ, किसीं भाव...
वनवास जा रहे है रघुवंश के दुलारे भजन लिरिक्स

वनवास जा रहे है रघुवंश के दुलारे भजन लिरिक्स

वनवास जा रहे है, रघुवंश के दुलारे, हारे है प्राण जिसने, लेकिन वचन ना हारे, वनवास जा रहे हैं, रघुवंश के दुलारे।। जननी ऐ जन्मभूमि, हिम्मत से काम लेना, चौदह बरस है गम के, इस दिल को थाम लेना, बिछड़े तो फिर मिलेंगे, हम अंश...
दया की आस में भगवन तेरे दरबार आया हूँ भजन लिरिक्स

दया की आस में भगवन तेरे दरबार आया हूँ भजन लिरिक्स

दया की आस में भगवन, तेरे दरबार आया हूँ, बना लो दास मुझको भी, बहुत लाचार आया हूँ, दया की आस मे भगवन, तेरे दरबार आया हूँ।। तर्ज - अवध में राम आए है। सुना हूँ तुम गरीबों के, सदा उद्धार करते...
प्रभु के सिवा कहीं दिल ना लगाना भजन लिरिक्स

प्रभु के सिवा कहीं दिल ना लगाना भजन लिरिक्स

प्रभु के सिवा, कहीं दिल ना लगाना, नहीं तो पड़ेगा तुझे, नहीं तो पड़ेगा तुझे, आंसू बहाना, प्रभू के सिवा, कहीं दिल ना लगाना।। तर्ज - परदेसियों से ना। जो प्रभु का गुणगान किया है, सच्चा जीवन वो ही जिया है, सुमिरन के बल...

फ़िल्मी तर्ज भजन

700+ Popular Bhajan Lyrics

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे