लाड़ो है सबकी प्यारी बरसाने वारी भजन लिरिक्स

लाड़ो है सबकी प्यारी,
बरसाने वारी,
एक छोटी सी नन्ही सी,
वृषभानु दुलारी,
लाड़ो हैं सबकी प्यारी,
बरसाने वारी।।



तेरे दर से मिलती,

खुशिया सबको सारी,
दुःखियों को देके जगह,
बरसाने में बुलाया है,
दर पे जो आया तेरे,
उसने सब कुछ पाया है,
श्री राधा रानी,
तेरे चरणों में है नमन,
लाड़ो हैं सबकी प्यारी,
बरसाने वारी।।



ऊँची है अटारी मेरी,

बरसाने वारी की,
आते है तेरी शरण तूने,
ऐसा रस बरसाया है,
राधा नाम लेके मैंने,
श्याम को बुलाया है,
मेरी लाड़ो प्यारी को,
न लागे किसी नज़र,
लाड़ो हैं सबकी प्यारी,
बरसाने वारी।।



लाड़ो है सबकी प्यारी,

बरसाने वारी,
एक छोटी सी नन्ही सी,
वृषभानु दुलारी,
लाड़ो हैं सबकी प्यारी,
बरसाने वारी।।

गायक / प्रेषक – कपिल खुराना।


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें