टूट गयी है माला मोती बिखर चले हिंदी लिरिक्स

टूट गयी है माला,
मोती बिखर चले,
दो दिन रह कर साथ,
जाने किधर चले।।



मिलन की दुनिया छोड़ चले यह,

आज बिरह मे सपने,
मिलन की दुनिया छोड़ चले यह
आज बिरह मे सपने,
खोए खोए नैनों मे हैं,
उजड़े उजड़े सपने,
उजड़े उजड़े सपने,
याद की गठरी लिए,
झुकाए नज़र चले,
दो दिन रह कर साथ,
जाने किधर चले।।



अब तो यह जग मे जियेंगे,

आँसू पीते पीते,
अब तो यह जग मे जियेंगे,
आँसू पीते पीते,
जैसी इनपे बीती वैसी,
और किसी पे ना बीते,
और किसी पे ना बीते,
कोई मत पूछो इन्हें लिए,
किस डगर चले,
दो दिन रह कर साथ,
जाने किधर चले।।



टूट गयी है माला,

मोती बिखर चले,
दो दिन रह कर साथ,
जाने किधर चले।।


https://youtu.be/sBMiQZ6IroE

इस भजन को शेयर करे:

अन्य भजन भी देखें

कश्ती मेरी भवर में इसे पार तुम लगाओ भजन लिरिक्स

कश्ती मेरी भवर में इसे पार तुम लगाओ भजन लिरिक्स

कश्ती मेरी भवर में, इसे पार तुम लगाओ, मेरे डूबने से पहले, आ कर मुझे बचाओ, कश्ती मेरी भंवर में, इसे पार तुम लगाओ।। तर्ज – मेरा आपकी कृपा से।…

Bhajan Lover / Singer / Writer / Web Designer & Blogger.

Leave a Comment

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे