तेरी मुरलिया दिल ले गई भजन लिरिक्स

तेरी मुरलिया दिल ले गई भजन लिरिक्स

तेरी मुरलिया दिल ले गई,

रास रचावे वहां धिरे धिरे,
जमुना बहे रे वहां धिरे धिरे,
तेरी मुरलिया दिल ले गई,
तेरी मुरलीया दिल ले गई,
रास रचावे वहां धिरे धिरे,
जमुना बहे रे वहां धिरे धिरे,
तेरी मुरलीया दिल ले गई।।

तर्ज – तेरी चुनरिया दिल ले गई।



जादू सा सबपर छाया है,

मन में तू सबके समाया है,
मौसम बसंत का आया है,
सुन्दर श्रृंगार सजाया है,
मेरी सांसो में तू,
मेरी आँखों में तू,
जर्रे जर्रे में तू,
मेरे सपनों में तू,
राधा जी नाचे वहां धिरे धिरे,
साज बजावे वहां धिरे धिरे,
तेरी मुरलीया दिल ले गई,
तेरी मुरलीया दिल ले गई।।



शान निराली तेरी साँवरिया,

चाल है बांकी तेरी साँवरिया,
छोटा सा प्यारा सा मनमोहन,
हो गई है गोपी सब बावरिया,
मेरा मोहन कहाँ,
मेरा गिरधर कहाँ,
राधा वल्लभ कहाँ,
मन मोहन कहाँ,
माखन चुरावे श्यामा धीरे धिरे,
गव्वे चरावे श्यामा धीरे धिरे,
तेरी मुरलीया दिल ले गई,
तेरी मुरलीया दिल ले गई।।



झूला वहां पर डाला है,

सखियों से घेरा डाला है,
काली कमलिया लहराई,
नैनो में कजरा डाला है,
पीताम्बर सजा,
माथे चन्दन लगा,
प्यारा रसिया बड़ा,
म्हारे मन में अड़ा,
भक्ति बढ़े रे मेरी धिरे धिरे,
लागे समाधी मेरी धिरे धिरे,
तेरी मुरलीया दिल ले गई,
तेरी मुरलीया दिल ले गई।।



श्यामा श्याम का संगम है,

नाम उसी का वृन्दावन है,
निधिवन जैसा महावन है,
कृष्ण नाम अति पावन है,
गोर्वधन जहाँ,
बरसाना वहां,
और मथुरा वहीँ,
सारे तीरथ वहां,
परदा होवे रे जहाँ धिरे धिरे,
भोग लगे रे वहां धीरे धिरे,
तेरी मुरलीया दिल ले गई,
तेरी मुरलीया दिल ले गई।।



खाटु धाम अति प्यारा है,

दर्शन से ही निष्तारा है,
खाटु का श्याम हमारा है,
भक्तो की सुनने वाला है,
ऐसा देव कहाँ,
महादानी कहाँ,
ऐसी महिमा कहाँ,
ऐसी शक्ति कहाँ,
नैन मिले रे जहाँ धिरे धिरे,
चैन मिले रे जहाँ धिरे धिरे,
तेरी मुरलीया दिल ले गई,
तेरी मुरलीया दिल ले गई।।



रास रचावे वहां धिरे धिरे,

जमुना बहे रे वहां धिरे धिरे,
तेरी मुरलिया दिल ले गई,
तेरी मुरलीया दिल ले गई,
रास रचावे वहां धिरे धिरे,
जमुना बहे रे वहां धिरे धिरे,
तेरी मुरलीया दिल ले गई।।

अविनाश मौर्य द्वारा प्रेषित।
संपर्क – 9098200177


आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें