मेरे कान्हा के मिल गए नैन राधिका गौरी से भजन लिरिक्स

मेरे कान्हा के मिल गए नैन,
राधिका गौरी से,
हो राधिका गौरी से,
राधिका गौरी से,
मेरे कान्हा के मिल गए नैन,
राधिका गौरी से।।



जगते राधा सोते राधा,

हँसते राधा रोते राधा,
लगन लगी दिन रैन,
राधिका गौरी से,
मेरे कान्हा के मिल गए नेन,
राधिका गौरी से।।



भोली भाली भानु दुलारी,

बाँका छलिया छैल बिहारी,
छीन लिया चित चैन,
राधिका गौरी से,
मेरे कान्हा के मिल गए नेन,
राधिका गौरी से।।



जब रूठे श्यामा श्याम मनावे,

धीरे धीरे वो तो चरण दबावे,
वो तो बोले मीठे बैन,
राधिका गौरी से,
मेरे कान्हा के मिल गए नेन,
राधिका गौरी से।।



मेरे कान्हा के मिल गए नैन,

राधिका गौरी से,
हो राधिका गौरी से,
राधिका गौरी से,
मेरे कान्हा के मिल गए नेन,
राधिका गौरी से।।


आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें