क्यों रूठे सबसे मेरे श्याम हमें मंदिर बुलाए ना भजन लिरिक्स

क्यों रूठे सबसे मेरे श्याम,
हमें मंदिर बुलाए ना,
मेरा मन प्यासा रह जाए,
जो दर्शन तेरे पाए ना,
क्यूँ रूठे सबसे मेरे श्याम,
हमें मंदिर बुलाए ना।।

तर्ज – ना झटको झुल्फ से।



बढ़ा जो पाप का घेरा,

तो तूने सबसे मुंह फेरा,
प्रभु भक्ति को भुला जग,
तो बरपा अब कहर तेरा,
तो बरपा अब कहर तेरा,
घडी ऐसी है संकट की,
करीब अपने भी आए ना,
क्यूँ रूठे सबसे मेरे श्याम,
हमें मंदिर बुलाए ना।।



हम बालक तेरे है नादान,

ना तुझसा जग में कोई महान,
करो ना माफ़ कहता है,
अब रो रो कर ये सारा जहान,
अब रो रो कर ये सारा जहान,
शरण ले लो हमें बाबा,
सही दुरी अब जाए ना,
Bhajan Diary Lyrics,
क्यूँ रूठे सबसे मेरे श्याम,
हमें मंदिर बुलाए ना।।



क्यों रूठे सबसे मेरे श्याम,

हमें मंदिर बुलाए ना,
मेरा मन प्यासा रह जाए,
जो दर्शन तेरे पाए ना,
क्यूँ रूठे सबसे मेरे श्याम,
हमें मंदिर बुलाए ना।।

Singer – Deepak Ram