सोई जा रे नाना वीर सिंगाजी भजन लिरिक्स

सोई जा रे नाना वीर,
भैया रे म्हारा,
सोईं जा रे नाना वीर।।



काई काई तुन संग म लायो,

दया धरम तकदीर,
भैया रे म्हारा,
सोईं जा रे नाना वीर।।



गंगा न यमुना संग म लायो,

लायो तिरवेनी को नीर,
भैया रे म्हारा,
सोईं जा रे नाना वीर।।



थारा बिना हो मन अति दुख पायो,

मन नहीं धर म्हारो धीर,
भैया रे म्हारा,
सोईं जा रे नाना वीर।।



सोई जा रे नाना वीर,

भैया रे म्हारा,
सोईं जा रे नाना वीर।।

प्रेषक – प्रमोद पटेल
9399299349


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें