सांवरिया तेरे द्वार पे आके हारी मैं दिल अपना लिरिक्स

सांवरिया तेरे द्वार पे आके,
हारी मैं दिल अपना,
हारी मैं दिल अपना।।

तर्ज – मैं तो तुम संग नैन मिला।



जब से तुझ संग प्रीत लगाई,

सुधबुध खोई नींद गंवाई,
फिर भी मन में खुशियाँ समाई,
साँवरिया तेरे द्वार पे आके,
हारी मैं दिल अपना,
हारी मैं दिल अपना।।



लोग कहे मुझे श्याम दीवानी,

प्यारी लागे ये बदनामी,
भावना मन की किसने जानी,
साँवरिया तेरे द्वार पे आके,
हारी मैं दिल अपना,
हारी मैं दिल अपना।।



ना दौलत ना शोहरत मांगू,

बस बाबा तेरी शोहबत मांगू,
और ना तुमसे कुछ ना मैं चाहूँ,
साँवरिया तेरे द्वार पे आके,
हारी मैं दिल अपना,
हारी मैं दिल अपना।।



सांवरिया तेरे द्वार पे आके,

हारी मैं दिल अपना,
हारी मैं दिल अपना।।

Singer – Tara Devi


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें