प्रथम लाभ सरणो माय कीजे जो कोई सिश नमावे

प्रथम लाभ सरणो माय कीजे,
जो कोई सिश नमावे,
अडसट तिरत मारे सत गुरु सरणे,
हे घरे बैठा गंगा नावे,
भाग ज्योरे संत पामना आवे रे हा,
है जीण घर कथा कीर्तन होवे हरि री,
हिल मिल मंगला गावे,
भाग ज्योरे शंत पोमना आवे रे हा।।



निन्दिया ममता कुबद कटारी,

दुर्मति दूर हटावे,
काम क्रोध पर निन्दिया त्यागे रे,
एडा उपदेश बतावे,
भाग ज्योरे संत पामना आवे रे हा,
है जीण घर कथा कीर्तन होवे हरि री,
हिल मिल मंगला गावे,
भाग ज्योरे शंत पोमना आवे रे हा।।



हे लाडू पैड़ा अमर मिठाई,

शंत हरक नही लावे,
रुख सूखा खाख अलुना,
रूस रूस भोंग लगावे,
भाग ज्योरे संत पामना आवे रे हा,
है जीण घर कथा कीर्तन होवे हरि री,
हिल मिल मंगला गावे,
भाग ज्योरे शंत पोमना आवे रे हा।।



महा प्रसाद देवो घणा दूजे,

शंत सदाइ मन भावे,
दुस्ट जीव भव मति ने हारे,
वीरता घर पद पावे रे,
भाग ज्योरे संत पामना आवे रे हा,
है जीण घर कथा कीर्तन होवे हरि री,
हिल मिल मंगला गावे,
भाग ज्योरे शंत पोमना आवे रे हा।।



जागा रे भाग पुरबला शनसित,

संत सदा ही मन भावे,
भाग उदय कर जावे,
कहत कबीर सुनो भाई सादु,
एडा उपदेश बतावे,
भाग ज्योरे संत पामना आवे रे हा,
है जीण घर कथा कीर्तन होवे हरि री,
हिल मिल मंगला गावे,
भाग ज्योरे शंत पोमना आवे रे हा।।



प्रथम लाभ सरणो माय कीजे,

जो कोई सिश नमावे,
अडसट तिरत मारे सत गुरु सरणे,
हे घरे बैठा गंगा नावे,
भाग ज्योरे संत पामना आवे रे हा,
है जीण घर कथा कीर्तन होवे हरि री,
हिल मिल मंगला गावे,
भाग ज्योरे शंत पोमना आवे रे हा।।

– गायक एवं प्रेषक –
हाजाराम देवासी
8150000451


https://youtu.be/VOHXcmqRp18

इस भजन को शेयर करे:

सम्बंधित भजन भी देखें -

भाव ऱाखजो भक्ति वेला नोम से मुक्ति

भाव ऱाखजो भक्ति वेला नोम से मुक्ति

भाव ऱाखजो भक्ति, वेला नोम से मुक्ति, साधु सदानन्द भेला, ज्योरे क्या करे जम नेड़ा।। सतगुरु मिल्या पागी, मारी सुरता सुन्दरी जागी, मनड़ो भयो वैरागी, ज्योने सुखमण कुसी लाधी, भाव…

हाथ जोड़ ने अरज करूँ मैं आयो थारे बारने रामदेवजी भजन

हाथ जोड़ ने अरज करूँ मैं आयो थारे बारने रामदेवजी भजन

हाथ जोड़ ने अरज करूँ, मैं हाथ जोड़ ने अरज करूं, मैं आयो थारे बारने, दुनिया म्हाने मैणा बोले, एक टाबर रे कारणे, दुनिया म्हाने मैणा बोले, एक टाबर रे…

भलो वेला भगवत ने भजीया राखेनी भरोसो मेरा भाई

भलो वेला भगवत ने भजीया राखेनी भरोसो मेरा भाई

भलो वेला भगवत ने भजीया, भलो वेला मालिक ने सुमरीया, सोय भजो नर नारी राम रो, राखेनी भरोसो मेरा भाई।। श्रीयादे सेवा मे बैठी, फिरती फिरे मंजारी ए हा, ए…

Bhajan Lover / Singer / Writer / Web Designer & Blogger.

Leave a Comment

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे