मन हो जा दीवाना रे श्याम जी के चरणों में भजन लिरिक्स

मन हो जा दीवाना रे,
श्याम जी के चरणों में,
श्याम जी के चरणों में,
श्याम जी के चरणों में,
मन हो ज दीवाना रे,
श्याम जी के चरणों में।।



श्याम नाम अमृत का प्याला,

पीकर इसको बन मतवाला,
सारा जीवन बिताना रे,
श्याम जी के चरणों में,
मन हो जा दिवाना रे,
श्याम जी के चरणों में।।



वृंदावन सा धाम नहीं है,

कृष्ण नाम सा नाम नहीं है,
प्राणी सुख का खजाना रे,
श्याम जी के चरणों में,
मन हो जा दिवाना रे,
श्याम जी के चरणों में।।



प्रेम के भूखे देवकीनंदन,

भक्तो के बस में है भवभंजन,
तुम भी भक्ति बढ़ाना रे,
श्याम जी के चरणों में,
मन हो जा दिवाना रे,
श्याम जी के चरणों में।।



मन हो जा दीवाना रे,

श्याम जी के चरणों में,
श्याम जी के चरणों में,
श्याम जी के चरणों में,
मन हो ज दीवाना रे,
श्याम जी के चरणों में।।


१ टिप्पणी

आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें