मैं तो रमता जोगी राम भजन लिरिक्स

मैं तो रमता जोगी राम,
मेरा क्या दुनिया से काम,
मैं तो रमता जोगी राम।bd।



हाड़ माँस की बनी पुतलिया,

ऊपर जड़िया चाम,
देख देख सब लोग रिझावे,
मेरो तन उपराम,
मैं तो रमता जोगी राम।bd।



माल खजाने बाग बगीचे,

सुंदर महल मुकाम,
एक पलक में सब ही छूटे,
संग चले नहीं दाम,
मैं तो रमता जोगी राम।bd।



मात पिता और मीत प्यारे,

भाई बंधू सुत बान,
स्वार्थ का सब खेल बना है,
नहीं इनमे आराम,
मैं तो रमता जोगी राम।bd।



दिन दिन पल पल छिन छिन काया,

छीजत जाए तमाम,
‘ब्रह्मानंद’ भजन कर प्रभु का,
मैं पाऊं विश्राम,
मैं तो रमता जोगी राम।bd।

 



मैं तो रमता जोगी राम,

मेरा क्या दुनिया से काम,
मैं तो रमता जोगी राम।bd।

गायक – स्व. श्री कालूराम जी बिखरनिया।
प्रेषक – धनाराम खोजा खङकाली नागौर।
रचना – श्री ब्रम्हानंद जी।


इस भजन को शेयर करे:

अन्य भजन भी देखें

थारो बीरा रंग मोए रंग मिल जाय गुणा री जोड़ी नही मिले

थारो बीरा रंग मोए रंग मिल जाय गुणा री जोड़ी नही मिले

थारो बीरा रंग मोए रंग मिल जाय, गुणा री जोड़ी नही ओ मिले, थारो भिरा रंग मोए रंगेओ मिलजाय, लखना री जोड़ी नाही ओ मिले।। हंशा भुग्ला एक भरेम रा,…

म्हाने घोड़लियो मंगवा मारी मां भजन लिरिक्स

म्हाने घोड़लियो मंगवा मारी मां भजन लिरिक्स

म्हाने घोड़लियो मंगवा मारी मां, महाने घोड़लियो मंगवा, घोड़े चढ़ने घुमण जासा, घोड़लियो मंगवा मारी मां।। बाल पणा में रामदेव जी, हट कीनो हट भारी, कैसे हट कीनो यह बालक,…

मनवा राखेनी विश्वास रामजी ने भूले काई रे लिरिक्स

मनवा राखेनी विश्वास रामजी ने भूले काई रे लिरिक्स

मनवा राखेनी विश्वास, रामजी ने भूले काई रे।। नव दस मास गर्भ में भाई, आपत आयी रे, नव दस मास गर्भ मे भाई, आपत आयी रे, जनमीयो पेला दूध तनावे,…

Bhajan Lover / Singer / Writer / Web Designer & Blogger.

Leave a Comment

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे