जमे पधारो धणी रोमा देसी वीणा भजन लिरिक्स

जमे पधारो धणी रोमा,

ककू केसर री गार निपाऊ,
मोतियों रो सोक पुराउ,
पीले पोनो री जाजम ढलाऊ,
जीण पर आचण पूरो,
दुर्बल होने करू विणती,
पाठ पधारो धणी पीरो,
दुर्बल होने करू विणती,
जमे पधारो धणी रोमा।।



गेहूं रे मगाऊ रामा कातिया,

झीणो पिवाऊ थोरे मेदो,
घिरत खोड में मैदो रलाऊ,
चोखो रंधाऊ थोरे सिरो,
दुर्बल होने करू विणती,
पाठ पधारो धणी पिरो,
दुर्बल होने करू विणती,
जमे पधारो धणी रोमा।।



ऊंची मेड़ी अधर झरुखा,

जीण पर आचण पुरो,
सिरख पथरणा ढालु ढोलियो,
जीण पर मालिक सुइरो,
दुर्बल होने करू विणती,
पाठ पधारो धणी पिरो,
दुर्बल होने करू विणती,
जमे पधारो धणी रोमा।।



गुरु उग्मदे पूरा मिलिए,

मार्ग बताया झीणा,
दोई कर जोड़ रत्नसिंग बोले,
चरणों में राखो पीरो,
दुर्बल होने करू विणती,
पाठ पधारो धणी पिरो,
दुर्बल होने करू विणती,
जमे पधारो धणी रोमा।।



ककू केसर री गार निपाऊ,

मोतियों रो सोक पुराउ,
पीले पोनो री जाजम ढलाऊ,
जीण पर आचण पूरो,
दुर्बल होने करू विणती,
पाठ पधारो धणी पीरो,
दुर्बल होने करू विणती,
जमे पधारो धणी रोमा,
जमे पधारो धणी रोमा।।

प्रेषक – बींजाराम पन्नू माडपुरा।


इस भजन को शेयर करे:

अन्य भजन भी देखें

सादर गणपत देव मनाऊँ निवन करूँ गुरू चरना में माजीसा भजन

सादर गणपत देव मनाऊँ निवन करूँ गुरू चरना में माजीसा भजन

सादर गणपत देव मनाऊँ, निवन करूँ गुरू चरना में, बाईसा री कथा सुनावु, बाईसा री कथा सुनावु, साचा वचना मे माता भटियाणी, हाँ रे माता भटियाणी, भई गाँव पाचला आयी,…

गर जोर मेरो चाले हिरे मोत्या से नजर उतार द्यु भजन लिरिक्स

गर जोर मेरो चाले हिरे मोत्या से नजर उतार द्यु भजन लिरिक्स

गर जोर मेरो चाले, हिरे मोत्या से नजर उतार द्यु, जईया वारु लूण राई बाबा, सोना चांदी वार द्यु, गर जोर मेरो चालें, हिरे मोत्या से नजर उतार द्यु।। प्यारा…

मै तो अर्ज करू गुरु थाने भजन लिरिक्स

मै तो अर्ज करू गुरु थाने भजन लिरिक्स

मै तो अर्ज करू गुरु थाने, शरणा में राखो म्हाने। श्लोक:- परमेश्वर से गुरु बड़े, तुम देखो वेद पुराण, सेख परिंदा यु कहे, तो गुरू घर है भगवान। मै तो…

Bhajan Lover / Singer / Writer / Web Designer & Blogger.

Leave a Comment

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे