जो बोले जयकारा वो जग में नही हारा भजन लिरिक्स

जो बोले जयकारा,
वो जग में नही हारा,
मेरे बांके बिहारी को,
बड़ा लगता प्यारा,
जो बोलें जयकारा,
वो जग में नही हारा।।



जयकारे की जय घोश से,

होता सबका बेड़ा पार,
यही पर आकर हो जाता,
सब पापो का उद्धार,
मै भी बोलू जयकारा,
तुम भी बोलो जयकारा,
जो बोलें जयकारा,
वो जग में नही हारा।।



भक्ति भाव से उसके आगे,

अपना शीश झुकाओ,
दोनों हाथ उठाकर के,
जय जयकार ग़ुंजाओ,
थाम लेगा हाथों को,
जो बोलें जयकारा,
मेरे बांके बिहारी को,
बड़ा लगता प्यारा।।



आजमा लो तुम द्वार पे जाकर,

पल मे झोली भरदे,
फस जाऐ गर बीच भवंर तो,
आकर पार लगा दे,
सभी की सुनता है,
जो बोलें जयकारा,
मेरे बांके बिहारी को,
बड़ा लगता प्यारा।।



कर दो नजर दया की,

कान्हा हो जाऐ वारे न्यारे,
बांगा को भी तार दो,
जैसे लाखो पापी तारे,
मै भी बोलू जयकारा,
तुम भी बोलो जयकारा,
जो बोलें जयकारा,
वो जग में नही हारा।।



जो बोले जयकारा,

वो जग में नही हारा,
मेरे बांके बिहारी को,
बड़ा लगता प्यारा,
जो बोलें जयकारा,
वो जग में नही हारा।।

गायक – पागल मामा।
मोबाइल न 9991515880


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें