नैनो के रास्ते प्रभु दिल मे समा रहे हो भजन लिरिक्स

नैनो के रास्ते प्रभु दिल मे समा रहे हो भजन लिरिक्स

होने लगी है अब कृपा,
नज़दीक आ रहे हो,
नैनो के रास्ते प्रभु,
दिल मे समा रहे हो।।

नैनो के रास्ते प्रभु,
दिल मे समा रहे हो
नैनो के रास्ते प्रभु,
दिल मे समा रहे हो ।।



चढ़ने लगा खुमार मुझे मस्ती मे क्या कहूँ,

चढ़ने लगा खुमार मुझे मस्ती मे क्या कहूँ,
चरणों मे आपके सदा बैठा यूही रहूँ,
चरणों मे आपके सदा बैठा यूही रहूँ,
साँवरे बैठा यूही रहु,
संवारे बैठा यूही रहु,
दीवाना हो गया हू मैं,

दीवाना हो गया हू में,
तेरा दीवाना हो गया हू,
तुम मुस्कुरा रहे हो,
नैनो के रास्ते प्रभु दिल मे समा रहे हो
नैनो के रास्ते प्रभु दिल मे समा रहे हो।।



जादू तुम्हारी हर अदा,

आय हाय क्या बांकपन,
अधरों पे झूमती हुई,
बंसी पे नाचे मन,
कभी पास आ रहे हो,
कभी दुरी बढ़ा रहे हो,
नैनो के रास्ते प्रभु दिल मे समा रहे हो
नैनो के रास्ते प्रभु दिल मे समा रहे हो।।



सबको भुला चूका हूँ मैं,

‘लहरी’ के श्याम तुम,
अब और कुछ काम ना,
मेरे चारो धाम तुम,
स्वीकार कर रहा हूँ मैं,
तुम कहीं छुपा रहे हो,
नैनो के रास्ते प्रभु दिल मे समा रहे हो
नैनो के रास्ते प्रभु दिल मे समा रहे हो।।


पतवार के बिना ही,
मेरी नाव चल रही है,
ए श्याम बिन ही माँगे,
हर चीज़ मिल रही है।

करता नही मैं कुछ भी,
सब काम हो रहा है,
करते हो तुम कन्हैया,
मेरा नाम हो रहा है।

मेरा आपकी कृपा से सब काम हो रहा है,
करते हो तुम कन्हैया मेरा नाम हो रहा है।।



मेरी लगी श्याम से प्रीत,

ये दुनिया क्या जाने,
क्या जाने भाई क्या जाने,
क्या जाने भाई क्या जाने,
मुझे मिल गया सच्चा मीत,
ये दुनिया क्या जाने,
मुझे मिल गया सच्चा मीत
ये दुनिया क्या जाने।

मेरी लगी श्याम से प्रीत दुनिया क्या जाने
मेरी लगी श्याम से प्रीत दुनिया क्या जाने।



मेरे घर आओ श्याम,

मेरे घर आओ श्याम तमन्ना यही है,
मेरे घर आओ श्याम तमन्ना यही है,
अभी मेने जी भर के देखा नही है।

मेरी लगी श्याम से प्रीत दुनिया क्या जाने
मेरी लगी श्याम से प्रीत दुनिया क्या जाने।


आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें