प्रथम पेज कृष्ण भजन गले से लगा लो ना साँवरिया भजन लिरिक्स

गले से लगा लो ना साँवरिया भजन लिरिक्स

गले से लगा लो ना साँवरिया,
गले से लगा लो ना,
तुम्हारे सिवा कोई ना मेरा,
मुझे अपना बना लो ना,
तुम्हारे सिवा कोई ना मेरा,
मुझे अपना बना लो ना।।

तर्ज – हुस्न पहाड़ो का।



अपना नही कोई सगले पराये,

अपना नही कोई सगले पराये,
जितना उठु मुझे उतना गिराये,
जितना उठु मुझे उतना गिराये,
आकर सँभालो ना साँवरिया,
आकर सँभालो ना,
तुम्हारे सिवा कोई ना मेरा,
मुझे अपना बना लो ना।।



तेरे बिना ना कोई हमारा,

तेरे बिना ना कोई हमारा,
हमने सुना तू है हारे का सहारा,
हमने सुना तू है हारे का सहारा,
मुझे भी जीता दो ना साँवरिया,
मुझे भी जीता दो ना,
तुम्हारे सिवा कोई ना मेरा,
मुझे अपना बना लो ना।।



‘गंगा गौरी’ तुझको पुकारे,

‘गंगा गौरी’ तुझको पुकारे,
आजा रे आजा पागल के प्यारे,
आजा रे आजा पागल के प्यारे,
प्रेम बढ़ा लो ना साँवरिया,
प्रेम बढ़ा लो ना,
तुम्हारे सिवा कोई ना मेरा,
मुझे अपना बना लो ना।।



गले से लगा लो ना साँवरिया,

गले से लगा लो ना,
तुम्हारे सिवा कोई ना मेरा,
मुझे अपना बना लो ना,
तुम्हारे सिवा कोई ना मेरा,
मुझे अपना बना लो ना।।

Singer : Ravi Beriwal


2 टिप्पणी

आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें

error: कृपया प्ले स्टोर से \"भजन डायरी\" एप्प डाउनलोड करे।