यही बस आस है जनम की प्यास है भजन लिरिक्स

यही बस आस है,
जनम की प्यास है,
सांवरे यार का,
दरश मोहे मिल जाए,
रंगीले यार का,
दरश मोहे मिल जाए।bd।
yahi bas aas hai janam ki pyas hai
तर्ज – मुकुट सिरमौर का।



आया मैं द्वार तेरे,

ज़माने को खो कर,
बीते है सावन नैना,
आंसुओं से धो कर,
यही अभिलाष है,
ये जब तक साँस है,
सांवरे यार का,
दरश मोहे मिल जाए,
रंगीले यार का,
दरश मोहे मिल जाए।bd।



छोड़े जमाना मुझे,

तुम नहीं छोड़ना,
मोड़े जमाना मुख,
तुम नहीं मोड़ना,
मेरा विश्वास है,
ये जब तक साँस है,
सांवरे यार का,
दरश मोहे मिल जाए,
रंगीले यार का,
दरश मोहे मिल जाए।bd।



सांवरी सूरत पे मैं,

वारि गिरधारी,
पलके बिछाए टेरू,
बाट तिहारी,
तू दिल के पास है,
‘बावरा’ दास है,
Bhajan Diary Lyrics,
सांवरे यार का,
दरश मोहे मिल जाए,
रंगीले यार का,
दरश मोहे मिल जाए।bd।



यही बस आस है,

जनम की प्यास है,
सांवरे यार का,
दरश मोहे मिल जाए,
रंगीले यार का,
दरश मोहे मिल जाए।bd।

Singer – Dheeraj Bawra Ji


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें