प्रथम पेज कृष्ण भजन सुनलो मेरे सांवरे भैया आगे करो कलाई राखी भजन लिरिक्स

सुनलो मेरे सांवरे भैया आगे करो कलाई राखी भजन लिरिक्स

सुनलो मेरे सांवरे भैया,
आगे करो कलाई,
आया है त्यौहार ये बहना,
राखी लेकर आई,
ये बंधन टूटे ना,
साथ ये छूटे ना।।



घर आने को तू करता,

हर बार ही आना कानी,
अबके तेरी नहीं चलेगी,
कोई भी मनमानी,
आस लगाए बैठी हूँ मैं,
करले मेरी सुनाई,
आया है त्यौहार ये बहना,
राखी लेकर आई
आया है त्यौहार ये बहना,
राखी लेकर आई,
ये बंधन टूटे ना,
साथ ये छूटे ना।।



रेशम की डोरी में मैंने,

मेरा प्यार छिपाया,
हर सुख दुःख में साथ रहेगा,
ये विश्वास समाया,
चाहे छोटी चाहे बड़ी हो,
सारी बात बताई,
आया है त्यौहार ये बहना,
राखी लेकर आई
आया है त्यौहार ये बहना,
राखी लेकर आई,
ये बंधन टूटे ना,
साथ ये छूटे ना।।



जल्दी से तुम श्याम चलो,

अब मेरा नेक भी दे दो,
मेरे बुलाने पे आना है,
वादा एक ही दे दो,
कहे ‘सचिन’ सारी बहनों का,
तुमसा एक हो भाई,
आया है त्यौहार ये बहना,
राखी लेकर आई
आया है त्यौहार ये बहना,
राखी लेकर आई,
ये बंधन टूटे ना,
साथ ये छूटे ना।।



सुनलो मेरे सांवरे भैया,

आगे करो कलाई,
आया है त्यौहार ये बहना,
राखी लेकर आई,
ये बंधन टूटे ना,
साथ ये छूटे ना।।

Singer – Upasana Mehta


१ टिप्पणी

आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें

error: कृपया प्ले स्टोर से \"भजन डायरी\" एप्प डाउनलोड करे।