सुगना पुकारे रामाराज ने सुगना री पुकार लिरिक्स

सुगना पुकारे रामाराज ने,
सुगना पुकारे रामाराज ने,

दोहा – बीरा मारा रामदेव,
रानी नेतल रा भरतार,
आ सुगना री विनती,
बीरा एकर लेवन आव।
केतो आजा बीरा रामदेव,
नितर तो लिख भेज संदेश,
नैनो मे आंसू पडे,
ज्यु सावन बरसे मेघ।



सुगना पुकारे रामाराज ने,

ओ बीरा एकर लेवन आवो रे हा,
ए बीरा ओलु थारी आवे रे हा,
ए बीरा ओलु थारी आवे रे हा।।



दुख में पुकारे सुगना बेनडी ओ बीरा,

लेवन वेगा आवो रे हा,
माने लेवन वेगा आवो रे हा,
नैनो मे बरसे सावन भादवो रे बीरा,
आंसूडा ढलकावे रे हा,
ए बीरा लेवन वेगा आवो रे हा।।



क्यु रे परणाई दुख रे मायने ओ बीरा,

अलगी पुंगल माई रे हा,
ए बीरा अलगी पुंगल माई रे हा,
हिवडो भरीयो छाती ऊबके रे बीरा,
पिवरिया रे ताई रे हा,
ए बीरा पिवरिया रे ताई रे हा।।



झुर झुर रोवे थारी बेनडी ओ बीरा,

आंसूडा ढलकावे रे हा,
ओ बीरा आंसूडा ढलकावे रे हा,
इतरो सुनता ही रामाराज ने,
मन मे दया तो विचारी रे हा,
ओ मन मे दया तो विचारी रे हा।।



बारहे वर्षा ती सुगना बेनडी ओ बैठी,

सासरिया रे माई रे हा,
बैठी दुखड़ा रे माई रे हा,
अबके बताय दो माने रूकडा ओ बीरा,
पिवरिया ले जावो रे हा,
माने रूनीचो दिखलाय दो रे हा।।



छोटी उमर में मरगी मावडी ओ बीरा,

माने क्यु बिसराई रे हा,
छोटी उमर मे मरगी मावडी ओ बीरा,
माने क्यु बिसराई रे हा,
ए माने अलगी क्यु परणाई रे हा,
अरे भूंडा बोले जी माने सासरे ओ बीरा,
सुसरोजी सतावे रे हा,
के नन्दल नंन्दल भूंडा बोले रे हा।।



भूंडा बोले जी माने सासरे ओ माने,

सासुजी सतावे रे हा,
के नंन्दल नंन्दल डोडी बोले रे हा,
रतनो आयो रे लेवन कारणे ओ बीरा,
दीनो कैद करारी रे हा,
के वेतो बैठो जेला माई रे हा।।



उंदो लटकायो कुआँ मयाने ओ ऊपर,

शिला रे सरकाई रे हा,
दियो जंजीरा जडवाई रे हा,
ब्याव रचायो बीरा आपरो ओ बेनड,
बिलखे पुंगल माई रे हा,
के सुगना तरसे पीहर ताई रे हा।।



लेवन ने आवो बीरा बहन ने ओ,

नाचु बन्दोली रे माई रे हा,
ओ नाचु बन्दोली रे माई रे हा,
के गावु गीत छोका आय रे हा,
अरज करूजी रामा आपने ओ बीरा,
सुनता वोतो आवो जी हा,
ए मारी अरजी सुनता आईजो जी हा।।



ए आधी ने अधरात रामदेव जागीया,

ओ बेनड बिलखे मारे ताई रे हा,
सुगना बिलखे मारे ताई रे हा,
लीलो घोडलीयो लावो बारने,
ओ लेवन सुगना ने मै जावु रे हा,
के कैद रतना री छुडावु रे हा।।



माता मैणादे उठ बोलीया ओ बेटा,

कटिने सिदावो रे हा,
ओ बेटा कटिने सिदावो रे हा।।



पुंगल मे बिलखे सुगना बेनडी,

ओ माता लेवन सारू जावु रे,
के रतना री कैद छुडावु रे हा,
तेल चढीयोडो बेटा रामदेव,
थारे मेहन्दी हाथा लागी रे हा,
के हाथा कांकन डोरा बंधीया रे हा।।



अरे पीठी रे लागी रे थारे डील रे,

ओ थाने फुलडा रे पहराया रे हा,
के जाया सावे तू चढीयोडो रे हा,
रामजी करे जिया होवसी रे,
माता जानो पडसी रे हा,
के सुगना ने लावनी पडसी रे हा।।



शंख घुरायो रामापीर ने ओ,

संग चढीया देव सारा रे हा,
के संग चढीया देव सारा रे हा,
ए हनुमंत भेरू काला गोरा रे हा,
ए हनुमंत भेरू काला गोरा रे हा।।



हडबू पाबू ने गोगा वीर ने जी ओ,

रावलमाल राठौड़ पूरा रे हा,
के देव तैतीस करोडा सारा रे हा,
हडबू पाबू ने गोगा वीर ने जी,
रावलमाल राठौड़ पूरा रे हा,
के रावलमाल राठौड़ पूरा रे हा।।



तोपा छूटे पुंगल मायने ओ,

आग लागी गढ रे माई रे हा,
के भारत रचीयो पुंगल माई रे हा,
के भारत रचीयो पुंगल माई रे हा।।



सुगना केवे जी बीरा साम्भलो रे,

भानु महला रे माई रे हा,
के भानु महला रे माई रे हा,
इतरो सुनता ही रामाराज ने,
ओ मन मे दया तो विचारी रे हा,
मन मे दया तो विचारी रे हा,
ए माया मेट दीनी सारी रे हा।।



चरनो मे पडीया सगला आयने,

ओ पडियार सगला भाई रे हा,
पडियार सगला भाई रे हा।।



अरे परसु पुगावा थारी बहन ने,

ओ बैल रथडा तो जोतावा रे हा,
के आसी सुगना ब्याव रे माई रे हा,
अरे परसु पुगावा थारी बहन ने ओ,
बैल रथडा जोतावा रे हा,
के आसी सुगना ब्याव रे माई रे हा।।



रतना री टूटी पग री बेडीया ओ,

झटके जंजीरा तोडाई रे हा,
ए बाबो जेल तो छुडाई रे हा,
रतना री टूटी पग री बेडीया ओ,
झटके जंजीरा तोडाई रे हा,
ए बाबो जेल तो छुडाई रे हा।।



अरे सुगना तो केवे बीरा रामदेव जी,

ओ रामदेव थे भाई रे हा,
ओ बीरा लाज तो बचाई रे हा,
अरे सुगना तो केवे बीरा रामदेव जी,
ओ रामदेव थे भाई रे हा,
ओ बीरा लाज तो बचाई रे हा।।



ओ हो अर्जुन सिवरे बाबा आपने,

ओ बाबा दुखडा थे निवारो रे हा,
ओ बाबा दुखडा थे निवारो रे हा,
के भगता रा कारज थे सारो रे हा।।

गायक – प्रकाश माली जी।
प्रेषक – मनीष सीरवी
9640557818


इस भजन को शेयर करे:

अन्य भजन भी देखें

भव सु पार उतारो गुरासा भजन लिरिक्स

भव सु पार उतारो गुरासा भजन लिरिक्स

भव सु पार उतारो गुरासा, बंधीयो जीव मारो अशुभ कर्म में, बंधीयो जीव मारो अशुभ कर्म मे, माया रो बंधीयो जालो ए हा, सोहन थाल भरीयो पृथ्वी मे, सोहन थाल…

बन्नासा जन्मीया चोटिला रे माय ओम बन्ना भजन

बन्नासा जन्मीया चोटिला रे माय ओम बन्ना भजन

बन्नासा जन्मीया चोटिला रे माय, दोहा – ओम बन्नासा री महिमा गावु, सुनजो ध्यान लगाय, चोटिला मे अवतरीया, राठौडा घर माय। शूरमा जन्मीया जन्मीया, चोटिला रे माय, भोमिया जन्मीया जन्मीया,…

भोले नाथ परणीजन आया देखो जान रो खटको

भोले नाथ परणीजन आया देखो जान रो खटको

भोले नाथ परणीजन आया, देखो जान रो खटको, साथ सोपारी लाया, हिन्गोडा रो कटको, महादेवजी परणीजन आया, देखो जान रो खटको।। आगे-आगे भूत नाचे, डाकनीया रो लटको, साथ सोपारी लाया,…

Bhajan Lover / Singer / Writer / Web Designer & Blogger.

Leave a Comment

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे