शरद पूनम का चंदा सिंगाजी भजन लिरिक्स

शरद पूनम का चंदा सिंगाजी,
म्हारा शरद पूनम का चंदा,
गुरु भक्ति में हर दिन आनंदा,
सिंगाजी म्हारा शरद पूनम का चंदा।।



गांव खजुरी जन्म भूमि तुम्हारी,

नगर पिपलियो कर्म भूमि तुम्हारी,
बाबा गवलई समाज का बंदा,
सिंगाजी म्हारा शरद पूनम का चंदा।।



कलयुग में बाबा कई दिया पतियारा,

जन जन बन्या बाबा अंखियन का तारा,
बाबा प्रेम प्रीत का परिंदा,
सिंगाजी म्हारा शरद पूनम का चंदा।।



मनरंग स्वामी खे गुरुजी बनायो,

निर्गुण भक्ति को पंथ अपनायो,
कटया आवागमन का फंदा,
सिंगाजी म्हारा शरद पूनम का चंदा।।



शरद पूनम का चंदा सिंगाजी,

म्हारा शरद पूनम का चंदा,
गुरु भक्ति में हर दिन आनंदा,
सिंगाजी म्हारा शरद पूनम का चंदा।।

प्रेषक – घनश्याम बागवान सिद्दीकगंज।
7879338198


इस भजन को शेयर करे:

सम्बंधित भजन भी देखें -

उसे वक्त भला क्या मारे जिसको औलाद ने मारा लिरिक्स

उसे वक्त भला क्या मारे जिसको औलाद ने मारा लिरिक्स

औलाद की खातिर इंसा, फिरता है मारा मारा, उसे वक्त भला क्या मारे, जिसको औलाद ने मारा।bd। देखे – माँ बाप से बढ़कर जग में। जिसकी खुशियों के खातिर, रातो…

हे पूरण परमात्मा विश्व बने धर्मात्मा नागरजी भजन लिरिक्स

हे पूरण परमात्मा विश्व बने धर्मात्मा नागरजी भजन लिरिक्स

हे पूरण परमात्मा, विश्व बने धर्मात्मा, सुखी रहे सब आत्मा, सुखी रहे सब आत्मा।। एक मेरी यही प्रार्थना, दुखी ना हो कोई आत्मा, एक मेरी यही प्रार्थना, दुखी ना हो…

Bhajan Lover / Singer / Writer / Web Designer & Blogger.

Leave a Comment

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे