प्रथम पेज राजस्थानी भजन नाडोल री धणीयाणी म्हारी आशापुरा महारानी ओ माँ

नाडोल री धणीयाणी म्हारी आशापुरा महारानी ओ माँ

नाडोल री धणीयाणी म्हारी,
आशापुरा महारानी ओ माँ,
दीन दुखी रा कारज सारो,
भगता री रखवाली ओ माँ,
चौहान कुल माँ थाने मनावे,
नाडोल गढ़ रे माई ओ माँ,
भगता री रखवाली मैया,
नाडोल री धणीयाणी।।



नवरात्रि में मेलो लागे,

नाडोल नगरी माई ओ माँ,
इन कलयुग मे एक आसरो,
आशापुरी कुलदेवी ओ माँ,
दूर दूर सु आवे जातरू,
निवन करे नर नारी ओ माँ,
निवन करे नर नारी माता,
जग में परचा भारी,
भगता री रखवाली मैया,
नाडोल री धणीयाणी।।



ढोल नगाडा नोपत बाजे,

थारे मन्दिर माई ओ माँ,
ढोला रे ढमकारे आवो,
म्हाने दर्शन देवो ओ माँ,
सूरज सामी बनीयो देवरो,
मूरत लागे प्यारी ओ माँ,
मूरत लागे प्यारी म्हारी,
शोभा है अति न्यारी,
भगता री रखवाली मैया,
नाडोल री धणीयाणी।।



सोनाला रा भेरूजी माँ,

थारे आगलवानी ओ माँ,
सोनाला रा भेरूजी माँ,
थारे आगलवानी ओ माँ,
रिमझिम करता आवे भेरूजी,
भगता रे बुलाया ओ माँ,
अरे भगता रे बुलाया माता,
वेगा वेगा आवो,
भगता री रखवाली मैया,
नाडोल री धणीयाणी।।



सोगसिंहजी माँ आवे द्वारे,

नाडोल नगरी माई ओ माँ,
सुख सिंह जी रा कंवर लाडला,
थाने शिश नमावे ओ माँ,
मदन माली थारा भजन बनावे,
‘गणपत सिंह’ गुण गावे ओ माँ,
‘इन्द्र शर्मा’ म्यूजिक बजावे,
किरपा वापर किजो ओ माँ,
अरे किरपा मापर किजो मैया,
चरना मे म्हाने लेलो,
भगता री रखवाली मैया,
नाडोल री धणीयाणी।।



नाडोल री धणीयाणी म्हारी,

आशापुरा महारानी ओ माँ,
दीन दुखी रा कारज सारो,
भगता री रखवाली ओ माँ,
चौहान कुल माँ थाने मनावे,
नाडोल गढ़ रे माई ओ माँ,
भगता री रखवाली मैया,
नाडोल री धणीयाणी।।

गायक – गणपतसिंह जी चौहान।
प्रेषक – मनीष सीरवी।
(रायपुर जिला पाली राजस्थान)
9640557818


कोई टिप्पणी नही

आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें

error: कृपया प्ले स्टोर से \"भजन डायरी\" एप्प डाउनलोड करे।