म्हारी सोवनी चीडी काया रो कारीगर तने फुटरी घड़ी

म्हारी सोवनी चीडी,
म्हारी रुपा री चीडी,
काया रो कारीगर,
तने फुटरी घड़ी।।



नौ दस मास गरब मे रही,

तु नरगा री घुरी,
बाहर आय राम न भुलो,
राम री पुरी,
मारी सोवनी चीडी,
मारी रुपा री चीडी,
काया रो कारीगर,
तने फुटरी घड़ी।।



नो दस मास घड़ता लागा,

हद सु हद घड़ी,
रु रु जोड़ा तील तील सादा,
तारा बीच जड़ी,
मारी सोवनी चीडी,
मारी रुपा री चीडी,
काया रो कारीगर,
तने फुटरी घड़ी।।



पाणी पिलाऊ चुगो चुगाऊ,

राखू हरी भरी,
ऐ चीड़कली पल पल मै,
थारी खबरा ले हु,
जाने कू बिसरी,
मारी सोवनी चीडी,
मारी रुपा री चीडी,
काया रो कारीगर,
तने फुटरी घड़ी।।



गुरु रे परताप सु,

सीरला जल सु तीरी,
रामानंद रा भणे कबीरा,
सत सग मे सुदरी,
मारी सोवनी चीडी,
मारी रुपा री चीडी,
काया रो कारीगर,
तने फुटरी घड़ी।।



म्हारी सोवनी चीडी,

म्हारी रुपा री चीडी,
काया रो कारीगर,
तने फुटरी घड़ी।।

प्रेषक – सुभाष सारस्वत काकड़ा।
मोबाइल 9024909170


इस भजन को शेयर करे:

अन्य भजन भी देखें

सतसंग की है रात भोलेनाथ को रिझाना है भजन लिरिक्स

सतसंग की है रात भोलेनाथ को रिझाना है भजन लिरिक्स

सतसंग की है रात, भोलेनाथ को रिझाना है, कीर्तन की है रात, भोलेनाथ को मनाना है, शिवशक्ति को रिझाना है, सतसंग की हैं रात।। तासोल गाँव में नाथ, है बडी़…

जाखोड़ा बाजे जोर का श्री देवनारायण भजन लिरिक्स

जाखोड़ा बाजे जोर का श्री देवनारायण भजन लिरिक्स

छम्म छम्म घूघरा, जाखोड़ा बाजे जोर का, नीले सवारी आवे, लागे घना फुटरा, अर र र घूमे र, जाखोड़ा थारो घोडलो, जाखोड़ा थारो घोडलों।। साडू मा रा लाडला, पर्चा देवे…

Bhajan Lover / Singer / Writer / Web Designer & Blogger.

Leave a Comment

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे