मुख से निकले मेरे बाबा तेरा नाम भजन लिरिक्स

तुझसे ही तो आस लगाए,
मेरे श्याम,
मुख से निकले,
मेरे बाबा तेरा नाम।।

तर्ज – दिल दीवाना बिन।



जबसे आयी शरण में तेरी,

मेरे खाटू वाले,
श्याम दीवानी कहते मुझको,
सारे दुनिया वाले,
अब रहना है शरण में तेरी,
मेरे श्याम,
मुख से निकलें,
मेरे बाबा तेरा नाम।।



कोई कहे तुझे कृष्ण कन्हैया,

कोई लखदातारी,
आये तेरे द्वार पे बाबा,
देखो दुनिया सारी,
श्याम श्याम नित मैं रटूं नित,
आठों याम,
मुख से निकलें,
मेरे बाबा तेरा नाम।।



डूबी जब भी किसी की नैया,

तू ही बना खिवैया,
पार करो मुझको भी भव से,
मेरे कृष्ण कन्हैया,
‘अविनाश’ भी जपता,
मुख से तेरा नाम,
मेरे श्याम,
मुख से निकलें,
मेरे बाबा तेरा नाम।।



तुझसे ही तो आस लगाए,

मेरे श्याम,
मुख से निकले,
मेरे बाबा तेरा नाम।।

Singer – Juli Singh


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें