लेके गोदी में खिलाल्यो बाबा श्याम बिलखे थारो गिगलियो लिरिक्स

लेके गोदी में खिलाल्यो बाबा श्याम,
यो बिलखे थारो गिगलियो,
गीगलियो जी थारो गिगलियो,
गीगलियो जी थारो गिगलियो।।

तर्ज – म्हाने खाटू में बुलाले बाबा।



कोमल कोमल पावां स्यु यो,

मंदिरिये में घूमे,
चोगरद्यु घुमावे नजरा,
सांवरिया ना दिखे,
लेके बार बार बाबा थारो नाम,
ढलकावे आंसू गिगलियो,
लेके गोदी में खिलाल्यों बाबा श्याम,
यो बिलखे थारो गिगलियो,
गीगलियो जी थारो गिगलियो।।



ना समझ अनजान है बाबा,

थोड़ी दया थे कर ल्यो,
देख नहीं गर पावे बाबा,
थे ही नजर अब करल्यो,
थारे सेवकिये री राखो बाबा लाज,
यो शरण आयो गिगलियो,
लेके गोदी में खिलाल्यों बाबा श्याम,
यो बिलखे थारो गिगलियो,
गीगलियो जी थारो गिगलियो।।



करयो इशारे थारे कानि,

गोदी माहि ले के,
हाथ जुडाया थारे कानि,
जय श्री श्याम कहके,
‘रुद्रा’ फूल्यो ना समावे बाबा श्याम,
यो खिलके हाँसे गिगलियो,
Bhajan Diary Lyrics,

लेके गोदी में खिलाल्यों बाबा श्याम,
यो बिलखे थारो गिगलियो,
गीगलियो जी थारो गिगलियो।।



लेके गोदी में खिलाल्यो बाबा श्याम,

यो बिलखे थारो गिगलियो,
गीगलियो जी थारो गिगलियो,
गीगलियो जी थारो गिगलियो।।

Singer – Aparna Mishra


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें