कर ले भजन तू भाव से ये रात हो ना हो लिरिक्स

कर ले भजन तू भाव से,
ये रात हो ना हो,
कल का है आसरा क्या,
यूँ बात हो ना हो,
कर ले भजन तु भाव से।।

तर्ज – लग जा गले।



कीर्तन की एक रात ये,

मिलती नसीब से,
दीखता है हमको सांवरा,
इतने करीब से,
यूँ रूबरू मिलन की फिर,
सौगात हो ना हो,
कल का है आसरा क्या,
यूँ बात हो ना हो,
कर ले भजन तु भाव से।।



तू सांवरे को प्रेम से,

जी भर निहार ले,
सब गलतियों को मान ले,
जीवन सुधार ले,
किरपा की जाने फिर कभी,
बरसात हो ना हो,
कल का है आसरा क्या,
यूँ बात हो ना हो,
कर ले भजन तु भाव से।।



मेवों से ना मिष्ठान से,

पकवान से नहीं,
ये रीझता वही पे है,
गर हो भजन कहीं,
‘गुलशन’ लगा ले हाजरी,
औकात हो ना हो,
Bhajan Diary Lyrics,
कल का है आसरा क्या,
यूँ बात हो ना हो,
कर ले भजन तु भाव से।।



कर ले भजन तू भाव से,

ये रात हो ना हो,
कल का है आसरा क्या,
यूँ बात हो ना हो,
कर ले भजन तु भाव से।।

Singer – Sonu Rastogi


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें