मोहे बांके बिहारी से काम जगत से क्या लेना भजन लिरिक्स

मोहे बांके बिहारी से काम जगत से क्या लेना भजन लिरिक्स

मोहे बांके बिहारी से काम,
जगत से क्या लेना,
क्या लेना हाय क्या लेना,
मेरे दिल में बसे घनश्याम,
जगत से क्या लेना।।



बांके बिहारी मीत हमारे,

झुटे दुनिया वाले सारे,
मैं वास करूँ ब्रजधाम,
जगत से क्या लेना,
मोहे बांके बिहारी से काम,
जगत से क्या लेना,
क्या लेना हाय क्या लेना,
मेरे दिल में बसे घनश्याम,
जगत से क्या लेना।।



दिल को तोड़ हसे जगवाले,

तुम बिन मुझको कौन संभाले,
मोहे गले लगालो श्याम,
जगत से क्या लेना,
मोहे बांके बिहारीजी से काम,
जगत से क्या लेना,
क्या लेना हाय क्या लेना,
मेरे दिल में बसे घनश्याम,
जगत से क्या लेना।।



दुनिया तो बस अपनी कहने को,

कह दो ना बस तुम मेरे हो,
दिन रात जपूँ तेरा नाम,
जगत से क्या लेना,
मोहे बांके बिहारीजी से काम,
जगत से क्या लेना,
क्या लेना हाय क्या लेना,
मेरे दिल में बसे घनश्याम,
जगत से क्या लेना।।


दर्शन बिन नहीं धीरज मन में,
बांके बिहारी बसे तन मन में,
मोहे श्याम मिले दिन रात,
जगत से क्या लेना,
मोहे बांके बिहारीजी से काम,
जगत से क्या लेना,
क्या लेना हाय क्या लेना,
मेरे दिल में बसे घनश्याम,
जगत से क्या लेना।।


मोहे बांके बिहारी से काम,
जगत से क्या लेना,
क्या लेना हाय क्या लेना,
मेरे दिल में बसे घनश्याम,
जगत से क्या लेना।।


आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें