मेरी नैया डगमग डोले श्री राम भजन लिरिक्स

मेरी नैया डगमग डोले,
तुम बिन मेरा कौन सहाई,
रघुकुल नंदन श्री रघुराई,
हम नादां हम भोले,
मेरी नैया डगमग डोले।।

तर्ज – मेरा परदेसी ना आया।



जीवन की ये लहर लहरियां,

मुझको रही उलझाये,
माया में मन उलझा उलझा,
एक ही आखर बोले,
मेरी नैया डगमग डोले।।



तुमसे मैने ये तन पाया,

और सांसो की डोरी,
तेरी अमानत है ये सांसे,
कतरा कतरा बोले,
मेरी नैया डगमग डोले।।



मोह माया में फसकर के मैं,

तुझ तक पहुच न पाऊँ,
‘राजेन्द्र’ के भव बंधन तुम बिन,
कौन भला अब खोले,
मेरी नैया डगमग डोले।।



मेरी नैया डगमग डोले,

तुम बिन मेरा कौन सहाई,
रघुकुल नंदन श्री रघुराई,
हम नादां हम भोले,
मेरी नैया डगमग डोले।।

गीतकार / गायक – राजेन्द्र प्रसाद सोनी।


इस भजन को शेयर करे:

अन्य भजन भी देखें

राम धुन लागि श्री राम धुन लागि श्री रविंद्र जैन भजन लिरिक्स

राम धुन लागि श्री राम धुन लागि श्री रविंद्र जैन भजन लिरिक्स

राम धुन लागि श्री राम धुन लागि, मन हमारा हुआ, राम राम जी का सुआ, बोले राम राम, हरपल राम राम, निशदिन राम राम, जय श्री राम राम, हे राम…

जो राम को लाए है हम उनको लाएंगे भजन लिरिक्स

जो राम को लाए है हम उनको लाएंगे भजन लिरिक्स

जो राम को लाए है, हम उनको लाएंगे, दुनिया में फिर से हम, भगवा लहराएंगे, यूपी में फिर से हम, भगवा लहराएंगे।। अयोध्या भी सजा दी है, काशी भी सजा…

Bhajan Lover / Singer / Writer / Web Designer & Blogger.

Leave a Comment

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे