भुवन विराजे मोरी माँ भजन लिरिक्स

कर सिंघ सवारी,
माई लगे प्यारी,
भुवन विराजे मोरी माँ,
अखियन में नूर बहार लिए,
मोरे अंगना पधारो मोरी माँ,
कर सिंह सवारी,
माई लगे प्यारी,
भुवन विराजे मोरी माँ।।



माथे में बिंदिया,

नाक नथुनिया,
केसर तिलक लगाये,
लाल चुनारिया ओढ़े मैया,
मंद मंद मुस्काये,
गले हार लिए श्रंगार किये,
मोरे अंगना पधारो मोरी माँ,
कर सिंह सवारी,
माई लगे प्यारी,
भुवन विराजे मोरी माँ।।



आँखों में कजरा,

बालो में गजरा,
गले मोतियन को हार,
रूप सलोना लागे मैया,
जग की है तारणहार,
दिल में अपने माँ तू प्यार लिए,
मोरे घर में विराजो मोरी माँ,
कर सिंह सवारी,
माई लगे प्यारी,
भुवन विराजे मोरी माँ।।



एक हाथ में त्रिशूल सोहे,

दूजे हाथ कटार,
भक्त पुकारें आजा मैया,
सिंघ पे होके सवार,
हम आस लिए तेरे द्वार खड़े,
अब दरस दिखा दो मोरी माँ,
कर सिंह सवारी,
माई लगे प्यारी,
भुवन विराजे मोरी माँ।।



कर सिंघ सवारी,

माई लगे प्यारी,
भुवन विराजे मोरी माँ,
अखियन में नूर बहार लिए,
मोरे अंगना पधारो मोरी माँ,
कर सिंह सवारी,
माई लगे प्यारी,
भुवन विराजे मोरी माँ।।

लेखक – नितिन नंदा।
गायिका – शिवानी जी।
8770237330


इस भजन को शेयर करे:

अन्य भजन भी देखें

ये तुम्हारी है कृपा माँ तेरा दर्शन हो रहा भजन लिरिक्स

ये तुम्हारी है कृपा माँ तेरा दर्शन हो रहा भजन लिरिक्स

ये तुम्हारी है कृपा माँ, तेरा दर्शन हो रहा, तेरा दर्शन हो रहा माँ, तेरा दर्शन हो रहा, ये हमारा भाग्य है माँ, तेरा दर्शन हो रहा।। तर्ज – सांवली…

बनकर के धूल के कण चरणों से लिपट जाऊं भजन लिरिक्स

बनकर के धूल के कण चरणों से लिपट जाऊं भजन लिरिक्स

बनकर के धूल के कण, चरणों से लिपट जाऊं, तेरे आँचल की छैया, मैं आके सिमट जाऊं, बनकर के धुल के कण, चरणों से लिपट जाऊं।। तर्ज – गुरुदेव दया…

सज रही मेरी अम्बे मैया सुनहरी गोटे में भजन लिरिक्स

सज रही मेरी अम्बे मैया सुनहरी गोटे में भजन लिरिक्स

सज रही मेरी अम्बे मैया, सुनहरी गोटे में, सुनहरी गोटे में, रूपहरी गोटे में।। मैया तेरी चुनरी की गजब है बात, चंदा जैसा मुखड़ा मेहंदी से रचे हाथ, सज रही…

Bhajan Lover / Singer / Writer / Web Designer & Blogger.

Leave a Comment

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे