मेरे श्याम से ही पहचान मेरी भजन लिरिक्स

मेरे श्याम से ही पहचान मेरी,
मेरे श्याम से ही है शान मेरी,
बात ये बिलकुल सही है,
बात ये बिलकुल सही है,
जानता जहान है,
हारो का हरदम सहारा,
खाटू वाला श्याम है,
हारो का हरदम सहारा,
खाटू वाला श्याम है।।

तर्ज – हर करम अपना करेंगे।



श्याम का साया जिसने पाया,
उसका बेड़ा पार है,

श्याम मेहर से पलभर में ही,
हो जाता उद्धार है,
कलयुग में आधार प्यारे,
सांवरे का नाम है,
हारो का हरदम सहारा,
खाटू वाला श्याम है,
हारो का हरदम सहारा,
खाटू वाला श्याम है।।



खाटू वाला जग का उजाला,

भक्तों का प्रतिपाल है,
इसकी शरण में आता है जो फिर,
नालायक भी निहाल है,
है बड़ा तंगी जमाना,
दर पे ही आराम है,
हारो का हरदम सहारा,
खाटू वाला श्याम है,
हारो का हरदम सहारा,
खाटू वाला श्याम है।।



माँ के वचन की लाज सदा ही,

रखता मेरा सांवरा,
हारो लाचारो के संग हरदम,
चलता मेरा सांवरा,
‘निर्मल’ बोले श्याम बाबा,
हम सबका अभिमान है,
Bhajan Diary,
हारो का हरदम सहारा,
खाटू वाला श्याम है,
हारो का हरदम सहारा,
खाटू वाला श्याम है।।



मेरे श्याम से ही पहचान मेरी,

मेरे श्याम से ही है शान मेरी,
बात ये बिलकुल सही है,
बात ये बिलकुल सही है,
जानता जहान है,
हारो का हरदम सहारा,
खाटू वाला श्याम है,
हारो का हरदम सहारा,
खाटू वाला श्याम है।।

Singer – Sourabh Sharma