मेरा तो रिश्ता सांवरे जन्मों का आपसे भजन लिरिक्स

मेरा तो रिश्ता सांवरे,
जन्मों का आपसे,
झुकता रहे ये सर सदा,
चरणों में आपके,
मेरा तो रिश्ता साँवरे,
जन्मों का आपसे।।

तर्ज – मिलती है जिंदगी में।



जीवन की डोर सांवरे,

बाँधी मैं सोच कर,
जाना ना दूर सांवरे,
दिल मेरा तोड़ कर,
मेरा तो रिश्ता साँवरे,
जन्मों का आपसे।।



देखा करूँ मैं आपको,

दुनिया की भीड़ में,
नैनन में तेरी मूर्ति,
दिल बैठा हार के,
मेरा तो रिश्ता साँवरे,
जन्मों का आपसे।।



मरके भी नाम आप से,

चलता रहे मेरा,
जीने की लो लग गयी,
चरणों में आपके,
मेरा तो रिश्ता साँवरे,
जन्मों का आपसे।।



दीवाने तेरे नाम के,

दुनिया में और भी,
‘जसविंदर’ ‘चहल’ दीवाने की,
दुनिया है आप से,
मेरा तो रिश्ता साँवरे,
जन्मों का आपसे।।



मेरा तो रिश्ता सांवरे,

जन्मों का आपसे,
झुकता रहे ये सर सदा,
चरणों में आपके,
मेरा तो रिश्ता साँवरे,
जन्मों का आपसे।।

Singer – Jaswinder Singh


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें