लिख देना लिख देना ओ गणपति भाग्य हमारा भी भजन लिरिक्स

लिख देना लिख देना ओ गणपति,
भाग्य हमारा भी,
जैसे सबको दिया सहारा देना,
साथ हमारा भी,
लिख देना लिख देना ओं गणपति,
भाग्य हमारा भी।।


एक तो लिखना मात पिताजी,
एक तो लिखना मात पिताजी,
लिख देना लिख देना ओं गणपति,
प्यारा सा भैया जी,
लिख देना लिख देना ओं गणपति,
भाग्य हमारा भी।।


एक तो लिखना सास ससुरजी,
एक तो लिखना सास ससुरजी,
लिख देना लिख देना ओं गणपति,
प्यारा सजनवा जी,
लिख देना लिख देना ओं गणपति,
भाग्य हमारा भी।।


एक तो लिखना बेटा और बेटी,
एक तो लिखना बेटा और बेटी,
लिख देना लिख देना ओं गणपति,
बेटे को नौकरिया भी,
लिख देना लिख देना ओं गणपति,
भाग्य हमारा भी।।


चाहे जितनी लिखना उमरिया,
चाहे जितनी लिखना उमरिया,
लिख देना लिख देना ओं गणपति,
जाऊँ सुहागन ही,
लिख देना लिख देना ओं गणपति,
भाग्य हमारा भी।।


दूर रहूं मैं पाप दोष से,
दूर रहूं मैं पाप दोष से,
लिख देना लिख देना ओं गणपति,
ऐसी बुद्धि भी,
लिख देना लिख देना ओं गणपति,
भाग्य हमारा भी।।


लिख देना लिख देना ओ गणपति,
भाग्य हमारा भी,
जैसे सबको दिया सहारा देना,
साथ हमारा भी,
लिख देना लिख देना ओं गणपति,
भाग्य हमारा भी।।

Upload By – Pratiksha Shrivastav


एप्प में इस भजन को कृपया यहाँ देखे ⏯

इस भजन को शेयर करे:

अन्य भजन भी देखें

तू शंकर का राज दुलारा गौरा माँ की आँख का तारा लिरिक्स

तू शंकर का राज दुलारा गौरा माँ की आँख का तारा लिरिक्स

तू शंकर का राज दुलारा, गौरा माँ की आँख का तारा, तुमको आना होगा, तुमको आना होगा।। तर्ज – नदियाँ चले चले रे धारा। हो करते है पहले, तेरी हम…

आना जी गणराज आना आना आंगन हमारे लिरिक्स

आना जी गणराज आना आना आंगन हमारे लिरिक्स

आना जी गणराज आना, आना आंगन हमारे, आना आंगन हमारे आना, आना आंगन हमारे, आना जीं गणराज आना, आना आंगन हमारे।। आप भी आना गौरा माता को लाना, जागेंगे भाग…

बेगा सा पधारो जी सभा में म्हारे आओ गणराज भजन लिरिक्स

बेगा सा पधारो जी सभा में म्हारे आओ गणराज भजन लिरिक्स

बेगा सा पधारो जी, सभा में म्हारे आओ गणराज, थे बेगा पधारो जी।। तर्ज – हुस्न पहाड़ों का। भक्त खड़े था की बाट निहारे, भक्त खड़े था की बाट निहारे,…

विघ्नो को टालने मेरे गणराज आ गये लिरिक्स

विघ्नो को टालने मेरे गणराज आ गये लिरिक्स

विघ्नो को टालने मेरे, गणराज आ गये, शिव शम्भू गौरा माता के, युवराज आ गये।। मंगलमयी है मूरत, मोदक लिए हुए, चूहे पे चढ़के जग के, सरताज आ गये, विघ्नों…

Bhajan Lover / Singer / Writer / Web Designer & Blogger.

Leave a Comment

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे