क्या फूल चढ़ाऊँ मैं प्रभु के चरणों में हिंदी लिरिक्स

क्या फूल चढ़ाऊँ मैं,
प्रभु के चरणों में,
कहाँ कैसे क्या उपहार दूँ,
मैं समझ ना पाऊँ,
मुझे बता दे प्यारे प्रभु,
क्या पसंद है मेरे प्रभु,
उसे तोड़ लाऊँ तेरे लिए,
उसे चुन लाऊँ तेरे लिए,
उसे तोड़ लाऊँ तेरे लिए,
उसे चुन लाऊँ तेरे लिए।।



मेरा ये जीवन तुझपे समर्पण,

करती हूँ मैं प्रभु तेरे लिए,
उसे तोड़ लाऊँ तेरे लिए,
उसे चुन लाऊँ तेरे लिए,
उसे तोड़ लाऊँ तेरे लिए,
उसे चुन लाऊँ तेरे लिए।।



रोटी अदाखरस प्रभु को अर्पण,

ग्रहण कर ले पावन बना दे,
उसे तोड़ लाऊँ तेरे लिए,
उसे चुन लाऊँ तेरे लिए,
उसे तोड़ लाऊँ तेरे लिए,
उसे चुन लाऊँ तेरे लिए।।



थाली में फल फूल लाए है हम,

प्रभु के चरणों में,
उसे तोड़ लाऊँ तेरे लिए,
उसे चुन लाऊँ तेरे लिए,
उसे तोड़ लाऊँ तेरे लिए,
उसे चुन लाऊँ तेरे लिए।।



क्या फूल चढ़ाऊँ मैं,

प्रभु के चरणों में,
कहाँ कैसे क्या उपहार दूँ,
मैं समझ ना पाऊँ,
मुझे बता दे प्यारे प्रभु,
क्या पसंद है मेरे प्रभु,
उसे तोड़ लाऊँ तेरे लिए,
उसे चुन लाऊँ तेरे लिए,
उसे तोड़ लाऊँ तेरे लिए,
उसे चुन लाऊँ तेरे लिए।।


इस भजन को शेयर करे:

सम्बंधित भजन भी देखें -

खम्मा खम्मा हो रामा रुणिचे रा धणिया भजन लिरिक्स

खम्मा खम्मा हो रामा रुणिचे रा धणिया भजन लिरिक्स

खम्मा खम्मा हो रामा रुणिचे रा धणिया, श्लोक – बाज रहया है तंदूरा, बाबा रे दरबार, खम्मा खम्मा गावे है, झांजर री झंकार।। खम्मा खम्मा हो रामा रुणिचे रा धणिया,…

जगत प्रीत मत करियो रे मनवा भजन लिरिक्स

जगत प्रीत मत करियो रे मनवा भजन लिरिक्स

जगत प्रीत मत करियो रे मनवा, जगत प्रीत मत करियो, हरी वादा से डरियो रे मनवा, जगत प्रीत मत करियो।। ये जग तो माया की छाया, झूटी माया झूटी छाया,…

Bhajan Lover / Singer / Writer / Web Designer & Blogger.

6 thoughts on “क्या फूल चढ़ाऊँ मैं प्रभु के चरणों में हिंदी लिरिक्स”

Leave a Comment

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे