कठे से आयो श्याम कठे से आयो शंकर भजन लिरिक्स

कठे से आयो श्याम,
कठे से आयो शंकर,
कठे से आयो रे,
माता अंजनी की लालो।।



खाटू से आयो श्याम,

काशी से आयो शंकर,
यो सालासर से आयो रे,
माँ अंजनी को लालो।।



के चढ़ आयो श्याम,

के चढ़ आयो शंकर,
यो के चढ़ आयो रे,
माता अंजनी को लालो।।



लीले चढ़ आयो श्याम,

नंदी पर आयो शंकर,
यो पवन वेग से आयो,
माता अंजनी को लालो।।



क्या से रीझे श्याम,

क्या से रीझे शंकर,
यो क्या से रीझे रे,
माता अंजनी को लालो।।



चूरमा से रीझे श्याम,

भंगिया से रीझे शंकर,
लड्डूवा से रीझे रे,
माता अंजनी को लालो।।



संकट काटे श्याम,

यो विपदा टाले शंकर,
दुःख दूर भगावे रे,
माता अंजनी को लालो।।



कठे से आयो श्याम,

कठे से आयो शंकर,
कठे से आयो रे,
माता अंजनी की लालो।।

Singer – Shyam Singh Ji Chouhan


2 टिप्पणी

  1. is bhajan ko sun kar man bahut prafullit hua hai, aur saath hi mene ise apne status par lagaya aur kai shyam bhakto ne ise suna aur dekha aur sabhi ko bahut pasand aya….
    aap is tarha ke madhur bhajan banate jaye aur hume sunate jaye….
    JAI SHREE SHYAM

    Ho sake to krpya muje is pure bhajan ko download karne ka rasta bataye ccouhan sahab

आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें