प्रथम पेज कृष्ण भजन भोला टाबरिया ने भूल्या कईया सरसी रे भजन लिरिक्स

भोला टाबरिया ने भूल्या कईया सरसी रे भजन लिरिक्स

तेरा भक्त करे तने याद श्याम,
तने आनो पडसी रे,
भोला टाबरिया ने भूल्या,
कईया सरसी रे,
कईया सरसी रे सांवरा,
कईया सरसी रे,
भोला टाबरीया ने भूल्या,
कईया सरसी रे।।



जद जद म्हापर आफत आवे,

नाम तेरो ही भावे,
और कोई दुःख बांटे नाही,
तू ना देर लगावे,
या आफत म्हारी भी भाया,
या आफत म्हारी भी भाया,
टाला सरसी रे,
भोला टाबरीया ने भूल्या,
कईया सरसी रे।।



घणी जगह से निगाह करि,

म्हाने सब याहि बतलावे,
खाटू वालो श्याम धणी,
तेरी नैया पार लगावे,
हो लीले असवार तने तो,
आनो पड़सी रे,
भोला टाबरीया ने भूल्या,
कईया सरसी रे।।



डगमग डगमग डोले नैया,

सूझे नहीं किनारो,
श्याम धणी तेरे भगता ने,
तेरो एक सहारो,
दास शरण छे थारे दाता,
खेणी पड़सी से,
भोला टाबरीया ने भूल्या,
कईया सरसी रे।।



तेरा भक्त करे तने याद श्याम,

तने आनो पडसी रे,
भोला टाबरिया ने भूल्या,
कईया सरसी रे,
कईया सरसी रे सांवरा,
कईया सरसी रे,
भोला टाबरीया ने भूल्या,
कईया सरसी रे।।

स्वर – संजय मित्तल जी।


2 टिप्पणी

आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें

error: कृपया प्ले स्टोर से \"भजन डायरी\" एप्प डाउनलोड करे।