काना थाने दुनिया बतावे माखन चोर भजन लिरिक्स

काना सारी,
दुनिया बतावै थांनै चोर,
काना थाने,
दुनिया बतावे माखन चोर,
चोरी करबो छोडो जी,
म्हासूं रिस्तो जोडो जी,
कन्हैया चितचोर।।



काना थांनै,

चोरी की कंईंया पड़ग्यी बांण,
म्हानै औ समझावो जी,
जी को भरम मिटावो जी,
कन्हैया चितचोर।।



काना थे छो,

सृष्टि रा सिरजनहार,
थांरै कांईं घाटो जी,
मन मं चुभ रयो कांटो जी,
कन्हैया चितचोर।।



काना थां पै,

तन-मन-धन द्यूं वार,
नैण सूं नैण मिलावो जी,
थोड़ा सा मुस्कावो जी,
कन्हैया चितचोर।।



कानूड़ा प्यारा,

माखण री कांईं ओकात,
‘नन्दू’ समझ न पावै जी,
गोपी नाच नचावै जी,
कन्हैया चितचोर।।



काना सारी,

दुनिया बतावै थांनै चोर,
काना थाने,
दुनिया बतावे माखन चोर,
चोरी करबो छोडो जी,
म्हासूं रिस्तो जोडो जी,
कन्हैया चितचोर।।

Singer – Manish Ji Sharma
Upload By – Vivek Agarwal
9038288815


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें