सभी कलाकारो की विनती श्याम प्रभु जी सुन लेना लिरिक्स

सभी कलाकारो की विनती,
श्याम प्रभु जी सुन लेना,
नैया डगमग होय हमारी,
इसे पार तुम कर देना।।

तर्ज – भला किसी का कर ना।



कैसा वक़्त ये आया बाबा,

हम सब तो बर्बाद हुए,
दरबारों में ताले लग गये,
ओर जागरण भी बंद हुए,
पूरा है विश्वास आप पर,
इसे तोड़ अब ना देना,
नैया डगमग होय हमारी,
इसे पार तुम कर देना।।



तेरे चरणों में रहकर,

तेरा गुणगान ही करते थे,
लोगो की खुशियों में बाबा,
हम ही तो रंग भरते थे,
देख साज़ और सामानो को,
भर आए अब तो नैना,
नैया डगमग होय हमारी,
इसे पार तुम कर देना।।



झूठे है सब रिश्ते नाते,

सबने मुख को मोड़ा है,
श्याम धणी सरकार हमें अब,
किसके भरोसे छोड़ा है,
मौसम बदले लोग बदल गए,
अब तुम मुख ना फेर लेना,
नैया डगमग होय हमारी,
इसे पार तुम कर देना।।



हारे के हो सहारे तुम तो,

लॉक डाउन से हम हारे,
अब परिवार चलाए कैसे,
फिरते है मारे मारे,
लिखा भजन ‘ज्योति’ ने बाबा,
गाया भजन ‘कृष्णा’ ने बाबा,
इसे गौर से सुन लेना
नैया डगमग होय हमारी,
इसे पार तुम कर देना।।



सभी कलाकारो की विनती,

श्याम प्रभु जी सुन लेना,
नैया डगमग होय हमारी,
इसे पार तुम कर देना।।

Singer – Krishna Agarwal Kolkata


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें