प्रथम पेज प्रकाश माली भजन ज्यारा परचा है भरपूर गुरूजी रा नाम बडा लिरिक्स

ज्यारा परचा है भरपूर गुरूजी रा नाम बडा लिरिक्स

ज्यारा परचा है भरपूर,
गुरूजी रा नाम बडा,
ओ ज्यारी महिमा अपरंपार,
भगत आवे खडा खडा,
ज्यारा परचा है भरपुर,
गुरूजी रा नाम बडा।।



महालक्ष्मी जी री कोख सुधारी,

महालक्ष्मी जी री कोख सुधारी,
कृष्ण मूर्ति जी री किरपा भारी,
कृष्ण मूर्ति जी किरपा भारी,
ओ ज्यारो नाम दियो वासुदेव,
गुण गावे घणा रे घणा,
ओ ज्यारो नाम दियो वासुदेव,
गुण गावे घणा रे घणा,
ज्यारा परचा है भरपुर,
गुरूजी रा नाम बडा।।



एक फकिरी गुरूजी धार्यो,

एक फकिरी गुरूजी धार्यो,
आको जीवन सुखत मे वार्यो,
आको जीवन सुखत मे वार्यो,
ज्यारे पग पग गंगा धाम,
पाप जावे बडा रे बडा,
ओ ज्यारे पग पग गंगा धाम,
पाप जावे बडा बडा,
ज्यारा परचा है भरपुर,
गुरूजी रा नाम बडा।।



गाँव पीपलीये धुणी रे रमायी,

गाँव पीपलीये धुणी रे रमायी,
शिव शंकर संग जाजम जमायी,
शिव शंकर संग जाजम जमायी,
ओ कोई घर घर में गुण गान,
हरख गावे घणा रे घणा,
ओ कोई घर घर में गुण गान,
हरख गावे घणा रे घणा,
ज्यारा परचा है भरपुर,
गुरूजी रा नाम बडा।।



गुरू किरपा सु मेघ बरसीयो,

गुरू किरपा सु मेघ बरसीयो,
अंजनी पुत्र सेवा सु हरखीयो,
अंजनी पुत्र सेवा सु हरखीयो,
ओ कोई ऊगा हरीया धान,
गुरूजी रा ज्ञान बडा,
ओ कोई ऊगा हरीया धान,
गुरूजी रा ज्ञान बडा,
ज्यारा परचा है भरपुर,
गुरूजी रा नाम बडा।।



राकेश मनावत चरन रो चेलो,

राकेश मनावत चरन रो चेलो,
पगल्या कर घर करजो पेरो,
पगल्या कर घर करजो पेरो,
ओ कोई सिर पर राखो हाथ,
आज थारे चरन पडा,
ओ कोई राखो सिर पर हाथ,
आज थारे चरन पडा,
ज्यारा परचा है भरपुर,
गुरूजी रा नाम बडा।।



ज्यारा परचा है भरपूर,

गुरूजी रा नाम बडा,
ओ ज्यारी महिमा अपरंपार,
भगत आवे खडा खडा,
ज्यारा परचा है भरपुर,
गुरूजी रा नाम बडा।।

गायक – प्रकाश मालीजी & कुशल बारठ।
प्रेषक – मनीष सीरवी।
(रायपुर जिला पाली राजस्थान)
9640557818


कोई टिप्पणी नही

आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें

error: कृपया प्ले स्टोर से \"भजन डायरी\" एप्प डाउनलोड करे।