जिसका मुझे था इंतजार माता भजन लिरिक्स

जिसका मुझे था इंतजार,
जिसके लिए दिल था बेकरार,
वो घड़ी आ गई आ गई,
आज भक्ति में मैया के रंग जाना है,
मां के मंदिर में जाकर भजन गाना है,
जिसका मुझें था इंतजार।।



मुझपे क्या गुजरी तु क्या जाने,

तुझको ओ मैया कैसे बताऊं,
नैनो को मैया तू दर्शन दिखा दे,
तेरे लिए दिल है कितना मेरा बेताब,
वो घड़ी आ गई आ गई,
आज भक्ति में मैया के रंग जाना है,
मां के मंदिर में जाकर भजन गाना है,
जिसका मुझें था इंतजार।।



भक्तों की तू है देवी दुलारी,

तुझको जाने ये दुनिया सारी,
सच्चाई की राह मैया तूने दिखाई है,
मुझको मुसीबत से मैया बचाई है,
वो घड़ी आ गई आ गई,
आज भक्ति में मैया के रंग जाना है,
मां के मंदिर में जाकर भजन गाना है,
जिसका मुझें था इंतजार।।



जिसका मुझे था इंतजार,

जिसके लिए दिल था बेकरार,
वो घड़ी आ गई आ गई,
आज भक्ति में मैया के रंग जाना है,
मां के मंदिर में जाकर भजन गाना है,
जिसका मुझें था इंतजार।।

स्वर – राधा मोरिया।
प्रेषक – डिकेश्वर राजपूत चांदली।
6268187452


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें