अरे राम के सखा हनुमान जी मेरी विनती सुनो हनुमान जी

अरे राम के सखा हनुमान जी,
मेरी विनती सुनो हनुमान जी,
साथ दिया श्री राम प्रभु का,
अपना भी करो कल्याण जी,
मेरी विनती सुनो हनुमान जी,
अरें राम के सखा हनुमान जी,
मेरी विनती सुनो भगवान जी।।



क्रोध मोह मद लोभ से बचाना,

सत्कर्मो पे हमको चलाना,
पाप हमारे पास ना आये,
ऐसा कोई करना काम जी,
मेरी विनती सुनो हनुमान जी,
अरें राम के सखा हनुमान जी,
मेरी विनती सुनो भगवान जी।।



पाँच तत्व की लाज रहे जी,

इस जीवन में दुख न सहें जी,
सबको सुखी कर हनुमत प्यारे,
अपनी भी बात कोई मान जी,
मेरी विनती सुनो हनुमान जी,
अरें राम के सखा हनुमान जी,
मेरी विनती सुनो भगवान जी।।



तेरे सहारे छोड़े जीवन की नइया,

डूब न जाये मेरी नाव ओ खेवैया,
पार लगा दो कष्ट मिटा दो,
चाहे अब कोई लेलो दाम जी,
मेरी विनती सुनो हनुमान जी,
अरें राम के सखा हनुमान जी,
मेरी विनती सुनो भगवान जी।।



अरे राम के सखा हनुमान जी,

मेरी विनती सुनो हनुमान जी,
साथ दिया श्री राम प्रभु का,
अपना भी करो कल्याण जी,
मेरी विनती सुनो हनुमान जी,
अरें राम के सखा हनुमान जी,
मेरी विनती सुनो भगवान जी।।

गीतकार एवं गायक – रत्नेश सिन्हा।
8009578133


आपको ये भजन कैसा लगा? कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इनस्टॉल कीजिये।

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें