जब कोई नहीं आता मेरे श्याम आते हैं भजन लिरिक्स

जब कोई नहीं आता,
मेरे श्याम आते हैं

मेरे दुःख के दिनों में वो,
बड़े काम आते हैं।।



मेरी नैया चलती है,
पतवार नहीं मिलती,

मेरी नैया चलती है,
पतवार नहीं मिलती,

किसी और की अब मुझको,
दरकार नहीं होती,

किसी और की अब मुझको,
दरकार नहीं होती,

मैं डरता नहीं रस्ते,
सुनसान आते हैं।

मेरे दुःख के दिनों में वो,
बड़े काम आते हैं।।



कोई भक्ति करे इनकी,
ये उनका हो जाये,

कोई भक्ति करे इनकी,
ये उनका हो जाये,

कोई याद करे इनको,
दुःख हल्का हो जाए,

कोई याद करे इनको,
दुःख हल्का हो जाए,

हर भगतों का कहना ,
ये मान जाते हैं।

मेरे दुःख के दिनों में वो,
बड़े काम आते हैं।।


ये इतने बड़े हो कर,
दिनों से प्यार करे,

ये इतने बड़े हो कर,
दिनों से प्यार करे,

अपने भक्तो के दुःख,
पल में स्वीकार करे,

अपने भक्तो के दुःख,
पल में स्वीकार करे,

ये बिन बोले सब कुछ,
पहचान जाते है,

मेरे दुःख के दिनों में वो,
बड़े काम आते हैं।।



जब कोई नहीं आता,
मेरे श्याम आते हैं

मेरे दुःख के दिनों में वो,
बड़े काम आते हैं।।


आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें