हे श्याम सदा मुझ पर किरपा की नजर रखना भजन लिरिक्स

हे श्याम सदा मुझ पर,
किरपा की नजर रखना,
मैं दास तुम्हारा हूँ,
इतनी तो खबर रखना,
हें श्याम सदा मुझ पर,
किरपा की नजर रखना।।



यहाँ कोई नहीं अपना,

एक तेरा सहारा है,
एक तेरा सहारा है,
मैंने देख लिया सबको,
अब तुमको पुकारा है,
पुकारा है, पुकारा है,
कही डूब ना जाऊ मैं,
मेरा हाथ पकड़ रखना,
हें श्याम सदा मुझ पर,
किरपा की नजर रखना।।



चरणों में रहूँ तेरे,

बस अर्जी यही मेरी,
है अरज यही मेरी,
स्वीकार करो अर्जी,
अब हो ना कहीं देरी,
अब हो ना कहीं देरी,
अब दर पे तुम्हारे ही,
मुझको जीना मरना,
हें श्याम सदा मुझ पर,
किरपा की नजर रखना।।



हरपल मेरे होंठो पर,

बस नाम तुम्हारा हो,
बस नाम तुम्हारा हो,
जब अंत समय आए,
वो धाम तुम्हारा हो,
वो धाम तुम्हारा हो,
दर्शन मैं करूँ तेरा,
जीवन का यही सपना,
हें श्याम सदा मुझ पर,
किरपा की नजर रखना।।



हे श्याम सदा मुझ पर,

किरपा की नजर रखना,
मैं दास तुम्हारा हूँ,
इतनी तो खबर रखना,
हें श्याम सदा मुझ पर,
किरपा की नजर रखना।।

स्वर – सौरभ मधुकर।


आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें