धोरां धरती माय रे ऊंडू काश्मीर माय रामदेवजी भजन

धोरां धरती माय रे,
ऊंडू काश्मीर माय,
अजमलजी घर प्रगट्या,
बाबा रामदेव ओ जी,
अजमलजी घर प्रगट्या,
बाबा रामदेव ओ जी।।



अरे विष्णु रो अवतार रे,

विष्णु रो अवतार,
अरे विष्णु रो अवतार रे,
द्वारिका रो नाथ,
पालना मे झूले बाबो रामदेव ओ जी,
पालना मे झूले बाबो रामदेव ओ जी।।



अरे रूनीचा रे माय रे,

धोरां धरती माय,
रूनीचा रे माय रे,
धोरां धरती माय,
बनीयो बाबा रो मोटो देवरो ओ जी,
बनीयो बाबो रो मोटो देवरो ओ जी।।



अरे ध्वजा फरूके असमान रे,

ध्वजा फरूके असमान,
अरे ध्वजा फरूके असमान रे,
ध्वजा फरूके असमान,
लीले री सवारी बाबा रामदेव ओ जी,
लीले री सवारी बाबा रामदेव ओ जी।।



सोवे भालो हाथ रे हडबड भालो हाथ,

सोवे भालो हाथ रे हडबड भालो हाथ,
मार्ग में मिलीया ओ बाबा रामदेव ओ जी,
मार्ग में मिलीया ओ बाबा रामदेव ओ जी।।



अरे आवे नर ओर नार रे,

आवे नर ओर नार,
आवे नर ओर नार रे,
आवे नर ओर नार,
परचा दिरावे जग में मोकला ओ जी,
परचा दिरावे जग में मोकला ओ जी।।



धोरां धरती माय रे,

ऊंडू काश्मीर माय,
अजमलजी घर प्रगट्या,
बाबा रामदेव ओ जी,
अजमलजी घर प्रगट्या,
बाबा रामदेव ओ जी।।

गायक – प्रकाश माली जी।
प्रेषक – मनीष सीरवी।
(रायपुर जिला पाली राजस्थान)
9640557818


इस भजन को शेयर करे:

अन्य भजन भी देखें

थारे पगा तो उबाणी आऊँ म्हारी माँ ये सोना रा झांझर बाजणा

थारे पगा तो उबाणी आऊँ म्हारी माँ ये सोना रा झांझर बाजणा

थारे पगा तो उबाणी, आऊँ म्हारी माँ, ये सोना रा झांझर बाजणा, ये मैया सोना रा झांझर बाजणा।। ओ थारा माता पे टिकलो, ल्याई म्हारी माँ २, सोना रा झांझर…

जग पालनहारा नाथ कृपा घनश्याम की लिरिक्स

जग पालनहारा नाथ कृपा घनश्याम की लिरिक्स

जग पालनहारा, नाथ कृपा घनश्याम की, आ धरती है प्रभु, भगत वत्सल भगवान की।। तर्ज – हम कथा सुनाते राम सकल। धोरा धरती मरूधर भूमि, आवे देवता इन धरती पे,…

गजानंद देव बड़ा मतवाला भजन लिरिक्स

गजानंद देव बड़ा मतवाला भजन लिरिक्स

गजानंद देव बड़ा मतवाला, सरस्वती माँ ने गजानंद सिमरु, हाथ खड़क छोगाला, गजानंद सोमी बड़ा सुंडाला।। चार सखियो मंगला गावे, इच्छा पुरावण वाला, रिद्धि सिद्धि नारी थोरे संग में विराजे,…

धिन धिन अंजली रा लाल बजरंग बालाजी

धिन धिन अंजली रा लाल बजरंग बालाजी

धिन धिन अंजली रा लाल, बजरंग बालाजी।। बाल पणे मे सूरज निगल्या, ओ शंकर रो अवतार, बजरंग बालाजी, धीन धीन अंजली रा लाल, बजरंग बालाजी।। लक्ष्मण प्रोण बगावीया बाला, वेतो रामचंद्र…

Bhajan Lover / Singer / Writer / Web Designer & Blogger.

Leave a Comment

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे