आवे आवे माताजी रमता आवे भजन लिरिक्स

आवे आवे माताजी रमता आवे भजन लिरिक्स

आवे आवे माताजी रमता आवे,
आवे आवे आवे चामुण्डा रमता आवे,
चामुण्डा रमता आवे बायोसा रमता आवे,
चामुण्डा रमता आवे बायोसा रमता आवे,
आवे आवे आवे बायोसा रमता आवे।।



अरे बायोसा रा मन्दिर में मालन दौडी आवे,

अरे माताजी रा मन्दिर में मालीजी दौड्या आवे,
मालीजी दौड्या आवे फुलडो रा हार चढावे,
मालीजी दौड्या आवे फुलडो रा हार चढावे,
फुलडो रा हार चढावे माताजी दर्शन देवे,
ए फुलडो रा हार चढावे माताजी दर्शन देवे,
अरे आवे आवे आवे बायोसा रमता आवे।।



ए माडी बायोसा रा मन्दिर में दरजीजी दौड्या आवे,

अरे बायोसा रा मन्दिर में दरजीजी दौड्या आवे,
अरे तारा जडीयो री चुनडी बायोसा रे लेने आवे,
बायोसा रे लेने आवे दरजीजी वेगा आवे,
बायोसा रे लेने आवे दरजीजी वेगा आवे,
अरे आवे आवे आवे बायोसा रमता आवे।।



ए अरे चामुण्डा रा मन्दिर में सोनीजी दौड्या आवे,

अरे माताजी रा मन्दिर में सोनीजी दौड्या आवे,
सोनीजी दौड्या आवे सोने रो छत्तर चढावे,
सोनीजी दौड्या आवे सोने रो छत्तर चढावे,
सोने रो छत्तर चढावे सोनी ने दर्शन देवे,
अरे आवे आवे आवे बायोसा रमता आवे।।



ए अरे बायोसा रा मन्दिर में कुम्हारन दौडी आवे,

अरे बायोसा रा मन्दिर में कुम्हारन दौडी आवे,
अरे कोरा कोरा मटका लेने जल चढावन आवे,
अरे कोरा कोरा मटका लेने जल चढावन आवे,
अरे जल चढावा आवे रे बायोसा रे चरने आवे,
अरे जल चढावा आवे रे बायोसा रे चरने आवे,
अरे आवे आवे आवे बायोसा रमता आवे।।



ए अरे माताजी री आ महिमा दास कन्हैयो गावे,

अरे माताजी री आ महिमा दास कन्हैयो गावे,
अरे चामुण्डा साउण्ड मे मैया थारा भजन सुनावे,
अरे चामुण्डा साउण्ड मे मैया थारा भजन सुनावे,
अरे हरीश गहलोत मैया थारा दर्शन पावे,
अरे हरीश गहलोत मैया थारा दर्शन पावे,
आवे आवे माताजी रमता आवे,

अरे आवे आवे आवे बायोसा रमता आवे।।

गायक – संत कन्हैयालाल जी।
प्रेषक – मनीष सीरवी
9640557818


आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें