धिन माता धिन धरती ए तन कदे न देखी फिरती ए

धिन माता धिन धरती ए,
तन कदे न देखी फिरती ए,
बड़ा बड़ा नर गीटगी ए,
तन कदे न देखी फिरती ए।।



धरती रो धणियाप करंता,

केई नर होगिया आगे,
रावण कुंभकरण सा योद्धा,
गया धड़िंदा खाता ए,
धीन माता धीन धरती ए,
तन कदे न देखी फिरती ए।।



भीम सरिखा बलवत योद्धा,

नीत वट करता कुस्ती है,
हिमाले मे हाड गालयो,
तोई नहीं आई सोमवती ए,
धीन माता धीन धरती ए,
तन कदे न देखी फिरती ए।।



तारु तो नावड़िया चाले,

नदिया चाले गीरती ए,
चांद सूरज चारो बेचारे,
नतर हाले फिरती ए,
धीन माता धीन धरती ए,
तन कदे न देखी फिरती ए।।



देवनाथ गुरु पुरा मिलिया,

सतगुरु मिलिया सीवरती ए,
ए कहे रैमान सुणो भाई साधो,
जाती जोग भगत की रे,
धीन माता धीन धरती ए,
तन कदे न देखी फिरती ए।।



धिन माता धिन धरती ए,

तन कदे न देखी फिरती ए,
बड़ा बड़ा नर गीटगी ए,
तन कदे न देखी फिरती ए।।

प्रेषक – महेंद्र ढाका।
7568206629


इस भजन को शेयर करे:

सम्बंधित भजन भी देखें -

म्हाने बहलावो ना श्याम बाता में श्याम भजन लिरिक्स

म्हाने बहलावो ना श्याम बाता में श्याम भजन लिरिक्स

म्हाने बहलावो ना, श्याम बाता में, थारी याद सतावे, आधी राता में।। हारे का साथी हैं बाबा, भक्तो का हितकारी, मनमोहन हैं खाटू वाला, निले की असवारी, म्हारे मोरछडी फेरो…

नाभि रे कमल नेजा रोपिया हो राज सूरता ऊँची रे चढे

नाभि रे कमल नेजा रोपिया हो राज सूरता ऊँची रे चढे

नाभि रे कमल नेजा रोपिया हो, राज सूरता ऊँची रे चढे। दोहा – गुरु बीन्जारा ग्यान का, और लाया वस्तु अमोल, सौदागर साचा मिले, वे ले सीर साठे तोल। नाभी…

मालासेरी डूंगरी सु देव देमली आया भजन लिरिक्स

मालासेरी डूंगरी सु देव देमली आया भजन लिरिक्स

साडू मां का जाया, भक्ता के मनडे भाया, मालासेरी डूंगरी सु, देव देमली आया।। सखिया मंगल गाया, फूला सा देव मन भाया, मालासेरी डुंगरी सु, देव देमली आया।। लाडूडा बंटवाया,…

Bhajan Lover / Singer / Writer / Web Designer & Blogger.

Leave a Comment

error: कृपया प्ले स्टोर से भजन डायरी एप्प इंस्टाल करे