छोटी छोटी गैया छोटे छोटे ग्वाल भजन लिरिक्स

छोटी छोटी गैया छोटे छोटे ग्वाल भजन लिरिक्स

छोटी छोटी गैया छोटे छोटे ग्वाल,
छोटो सो मेरो मदन गोपाल।।



आगे आगे गईया पीछे पीछे ग्वाल,

बीच में मेरो मदन गोपाल।।



कारी कारी गैया गोरे गोरे ग्वाल,

श्याम वरण मेरो मदन गोपाल।।



घास खाए गैया दुध पीवे ग्वाल,

माखन खावे मेरो मदन गोपाल।।



छोटी छोटी लकुटी छोले छोटे हाथ,

बंसी बजावे मेरो मदन गोपाल।।



छोटी छोटी सखियाँ मधुबन बाग़,

रास राचावे मेरो मदन गोपाल।।



छोटी छोटी गैया छोटे छोटे ग्वाल,

छोटो सो मेरो मदन गोपाल।।


आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें