योगी शांतिनाथ जी साँचा रे चालो गुरूजी रा चरना में

0
योगी शांतिनाथ जी साँचा रे, चालो गुरूजी रा चरना में, योगी शांतिनाथ जी साचा रे, चालो गुरूजी रा चरना मे, भाया भाग आपरा जागा रे, चालो गुरूजी रा चरना...

योगी शांतिनाथ जी ने बार बार वंदना भजन लिरिक्स

0
योगी शांतिनाथ जी ने, बार बार वंदना, म्हारा गुरूदेव जी ने, बार बार वंदना, बार बार वंदना, हजार बार वंदना, गुरू शांतिनाथ जी ने, बार बार वंदना, म्हारा गुरूदेव जी ने, बार बार...

ऊंचे डूंगर देवरो जी कोई रतनेश्वर महादेव

0
ऊंचे डूंगर देवरो जी, कोई रतनेश्वर महादेव, जातरी आवे घणा, मैं तो वारी जाऊँ, परचा जग में बडा़, मै तो नाग निवन शिव थाने करा।। राजा मानसिंह आपरो जी, ओ मिन्दर...

डम डम डम नोपत बाजे सिरे मिन्दर माय भजन लिरिक्स

0
डम डम डम नोपत बाजे, सिरे मिन्दर माय, जटे बिराजे बापजी, जटे बिराजे बापजी, कोई सिद्ध जालंधर नाथ, जगत रे मायने जी, साचो है भगता रो ओतो आसरो ओ, जियो नाथजी...

नाथ जालन्धर तपधारी पहाडों में लीला है थारी लिरिक्स

0
नाथ जालन्धर तपधारी, दोहा - नाथ जालन्धर आपरी, महिमा अपरंपार, साचे मन सु जो कोई सिवरे, करजो बेडा पार। नाथ जालन्धर तपधारी, पहाडों में लीला है थारी, नाथ जालंधर तपधारी ओ...

करदो निजरा निज भगता पर आया थारे आंगन जालन्धर नाथजी

0
करदो निजरा निज भगता पर, आया थारे आंगन योगी, सिद्ध जालन्धर नाथ जी, करदों निजरा निज भगता पर, आया थारे आंगन योगी, सिद्ध जालन्धर नाथ जी।। नव नाथों मे नाथ...

अम्बाजी रो लाड़लो सेवाडी भैरव देव भजन लिरिक्स

0
अम्बाजी रो लाड़लो, दोहा - भगत खडा दरबार में, थारी चरना माय, दर्शन दीजो बापजी, म्हारी किजो खेतल सहाय। अम्बाजी रो लाड़लो, सेवाडी भैरव देव, अम्बाजी रो लाडलो, सेवाडी भैरव देव, भगता रो...

अम्बाजी थारी मूरत सिंगारी करूला मैया पूजा मै थारी

0
अम्बाजी थारी मूरत सिंगारी, करूला मैया पूजा मै थारी, लागे रे थारी शोभा अति प्यारी, आवे रे थारे द्वारे नर नारी, मूरत मोहनकारी मैया, शोभा अति प्यारी, अम्बाजी थारी मूरत...

फुटरो लागे जी मिन्दर भेरुजी भजन लिरिक्स

0
फुटरो लागे जी मिन्दर, दोहा - भेरू भरजाला खेतला, नेे नगर सोनाला माय, देवल लागे फुटरो, म्हाने दुजो नी आवे दाय। फुटरो लागे जी मिन्दर, फुटरो लागे, फुटरो लागें जी मिन्दर, फुटरो...

आओ संतोषी मैया आंगने म्हारा दुखडा निवारो ओ जी

0
आओ संतोषी मैया आंगने, दोहा - मेहर करो मैया मेरी, अरज सुनो माँ आय, हे संतोषी सहाय करो, थारे निव निव लागू पाव। आओ संतोषी मैया आंगने, ओ म्हारा दुखडा...

फ़िल्मी तर्ज भजन

कृष्ण भजन लिरिक्स

error: कृपया प्ले स्टोर से \"भजन डायरी\" एप्प डाउनलोड करे।