भक्तो ने पुकारा है एक बार चले आओ भजन लिरिक्स

भक्तो ने पुकारा है,
एक बार चले आओ,
एक बार चले आओ,
प्यासी इन अखियो को,
अब और ना तरसाओ,
एक बार चले आओ,
एक बार चले आओ।।



हमने तेरी चाहत में,

सारा जग छोड़ा है,
हमने तेरी खातिर,
हर रिश्ता तोडा है,
तुम बिन मैं जियु कैसे,
इतना तो बता जाओ,
एक बार चले आओ,
एक बार चले आओ।।



एक बार गले मिलकर,

जी भरकर के तो रोलु मैं,
तेरी गोद में सर रखकर,
कुछ देर तो सोलु मैं,
बिन दर्श ना मर जाऊ,
इतना भी ना कर पाओ,
एक बार चले आओ,
एक बार चले आओ।।



नफरत से भरे जग में,

सब तिल तिल जलते है,
बस तेरा सहारा है,
जिसे पाकर पलते है,
गीता का ज्ञान दिया,
अब प्यार सीखा जाओ,
एक बार चले आओ,
एक बार चले आओ।।



अगर भूल कोई हो तो,

उसे दिल से भुला देना,
भटके हुए राही को,
प्रभु राह दिखा देना,
विनती ये ‘अमन’ की है,
जीवन को सजा जाओ,
एक बार चले आओ,
एक बार चले आओ।।



भक्तो ने पुकारा है,

एक बार चले आओ,
एक बार चले आओ,
प्यासी इन अखियो को,
अब और ना तरसाओ,
एक बार चले आओ,
एक बार चले आओ।।

Singer : Mukesh Bagda


आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें