साँवरिया साँवरिया तेरे आगे हर दम नाचूँ भजन लिरिक्स

साँवरिया साँवरिया तेरे आगे हर दम नाचूँ,
मैं तो ओढ़ दुपट्टा केसरिया,
मैं तो ओढ़ूँ दुपट्टा केसरिया।।



इसे तेरे रंग में रंगा दूँ,

और तेरा ही नाम लिखा दूँ,
जहाँ कीर्तन तेरा होवे,
वहां नाच के रंग जमा दूँ,
साँवरिया साँवरिया,
तेरी महिमा घर घर बाँचु,
मैं तो ओढ़ दुपट्टा केसरिया,
मैं तो ओढ़ूँ दुपट्टा केसरिया।।

साँवरिया साँवरिया तेरे आगे हर दम नाचूँ,
मैं तो ओढ़ दुपट्टा केसरिया,
मैं तो ओढ़ूँ दुपट्टा केसरिया।।



मेरा मन भक्ति में लागा,

और प्रेम अनोखा जागा,
मुझे दर्शन अपना दे दो,
बस तुमसे इतना माँगा,
साँवरिया साँवरिया,
दुनिया को दीवाना लागू,
मैं तो ओढ़ दुपट्टा केसरिया,
मैं तो ओढ़ूँ दुपट्टा केसरिया।।

साँवरिया साँवरिया तेरे आगे हर दम नाचूँ,
मैं तो ओढ़ दुपट्टा केसरिया,
मैं तो ओढ़ूँ दुपट्टा केसरिया।।



इसे अपने तन पे लपेटु,

और सारी खुशियां समेटूँ,
फिर सांझ सवेरे बाबा,
बस तेरी सूरत देखूं,
साँवरिया साँवरिया,
तेरे नाम की अलख जगा दूँ,
मैं तो ओढ़ दुपट्टा केसरिया,
मैं तो ओढ़ूँ दुपट्टा केसरिया।।

साँवरिया साँवरिया तेरे आगे हर दम नाचूँ,
मैं तो ओढ़ दुपट्टा केसरिया,
मैं तो ओढ़ूँ दुपट्टा केसरिया।।


आपको ये भजन कैसा लगा ? अपने विचार बताएं

अपनी टिप्पणी लिखें
अपना नाम दर्ज करें